भारत में कोरोना के नए मामलों में गिरावट जारी, 24 घंटे में 20 हजार से ज्यादा हुए ठीक, 243 ने गंवाई जान

189
CORONA UPDATE
corona-explosion-in-metros

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना (Corona Update) के 10,273 नए मामले सामने आए, 20,439 कोरोना से ठीक हुए और 243 लोगों की मौत हुई. जिसके बाद कुल मामले 4,29,16,117 हो गए हैं. वहीं 1,11,472 लोगों (Active Case In India) का इलाज चल रहा है. देश में 243 मौतें होने के बाद अब तक कुल 5,13,724 मौत हो चुकी हैं. वहीं कुल 4,22,90,921 लोग रिकवर हो चुके हैं. अगर वैक्सीनेशन की बात की जाए तो देश में अब तक 1,77,44,08,129 लोगों का (Corona Vaccination) वैक्सीनेशन हुआ है.राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत कोरोना वायरस रोधी टीकों (Corona Vaccine) की करीब 177 करोड़ से खुराक दी जा चुकी हैं. कल 24 लाख 5 हजार 49 डोज़ दी गईं.

कल के मुकाबले आज 1,226 कम केस आए हैं. पॉजिटिविटी दर भी अब कम होकर 1 फीसद हो गई है.कल कोरोना के 11,499 नए मामले सामने आए थे और 255 लोगों की कोरोना से मौत हुई थी.स

60 साल के आयु वर्ग में इतने लोगों को लगे टीके

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना योद्धाओं और 60 साल से ज्यादा आयु वाले अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोगों को 1.99 करोड़ से ज्यादा (1,99,77,476) टीके लगाए गए हैं. आपको बता दें कि देश में कोविड रोधी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से शुरू हुआ और पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया. इसके बाद देश बड़े पैमाने पर लोगों को वैक्सीन डोज दी गई.इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (Indian Council of Medical Research-ICMR) के मुताबिक, 26 फरवरी तक कुल 76,67,57,518 सैंपल टेस्ट किए गए हैं. वहीं 26 फरवरी को 10,22,204 सैंपल टेस्ट किए गए हैं. देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 440 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 02 मरीज की मौत हो गई है. एक्टिव मामले 2,063 हो गए हैं.

क्या देश में आएगी चौथी लहर?

वहीं देश में कोरोना की तीसरी लहर के मंद पड़ने के साथ ही चौथी लहर की भविष्यवाणी सामने आ गई है. एक्सपर्ट का कहना है कि देश में कोरोना वायरस की चौथी लहर 22 जून के आसपास शुरू हो सकती है. चौथी लहर का असर 24 अक्टूबर तक जारी रह सकती है. चौथी लहर की गंभीरता, हालांकि, कोरोना वायरस के नए वेरिएंट के सामने आने पर निर्भर करेगी. कोरोना की चौथी लहर में बूस्टर डोज के साथ ही वैक्सीनेशन की स्थिति काफी महत्वपूर्ण रहेगी. आईआईटी कानपुर के रिसर्चर्स ने कहा है कि कोविड -19 की चौथी लहर कम से कम चार महीने तक चलेगी. यह सांख्यिकीय भविष्यवाणी 24 फरवरी को प्रीप्रिंट सर्वर MedRxiv पर पब्लिश हुई है.