नेपाल से लाई गई दिव्य शालिग्राम शिला का अयोध्या में पूजन..

186
bhn
bhn

नेपाल के जनकपुर से अयोध्या लाई गई देवसिला का अयोध्या में विधिवत पूजन-अर्चन हुआ। नेपाल के पूर्व उप प्रधानमंत्री जानकी मंदिर के महंत ने वैदिक रीति रिवाज से पूजन के बाद शालिग्राम शिला श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सौंप दी।

शिला का रामनगरी में भव्य अभिनंदन किया गया

दरअसल इससे पहले, भगवान विष्णु का स्वरूप मानी जाने वाली इस शिला का रामनगरी में भव्य अभिनंदन किया गया।अयोध्या पहुंचने पर शालिग्राम शिला पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, ट्रस्टी डॉक्टर अनिल मिश्र, निवर्तमान महापौर ऋषिकेश उपाध्याय सहित अन्य भाजपा नेताओं ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

इसे भी पढ़े : स्वामी प्रसाद मौर्य ने फिर दिया भड़काऊ बयान, कहा: “इंडियंस आर डाग”

नेपाल की पवित्र काली गंड की नदी से निकले गए दो बड़े पत्थरों (शालिग्रामी) को दो ट्रकों पर लादकर भारत लाया गया। शालिग्राम शिला यात्रा की अगुवाई राम जानकी मंदिर नेपाल के महंत राम पतेश्वर दास, नेपाल सरकार के पूर्व गृहमंत्री विमलेंद्र निधि सहित विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मंत्री राजेंद्र सिंह पंकज व राम मंदिर के ट्रस्टी कामेश्वर चौपाल कर रहे थे। यात्रा के साथ नेपाल से करीब 200 भक्त भी अयोध्या पहुंचे हैं। जानकी मंदिर से जुड़े महंत राम रोशन दास ने कहा कि शालिग्राम शिला को विष्णु का अवतार माना गया है। शालिग्राम शिला में प्राण प्रतिष्ठा नहीं की जाती है।