उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में तीसरे चरण की वोटिंग खत्म, शाम 5 बजे तक करीब 58% मतदान

548
voter turnout in UP
voter turnout in UP

यूपी विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के तहत राज्य के 16 जिलों की 59 विधानसभा सीटों पर मतदान संपन्न हो चुका है. चुनाव आयोग की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक शाम पांच बजे बजे तक औसतन 57.58 प्रतिशत मतदान हुआ है. फाइनल आंकड़ा बाद में जारी किया जाएगा. तीसरे चरण में कुल 627 प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर है. इनमें 97 महिला प्रत्याशी हैं. निर्वाचन आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मतदान रविवार सुबह 7 बजे शुरू हुआ और छह बजे तक चला. मतदान शांतिपूर्ण ढंग से और कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली.

चुनाव आयोग द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के मुताबिक तीसरे चरण में हाथरस में 59.00 प्रतिशत, फिरोजाबाद में 57.41, कासगंज में 59.11 प्रतिशत, एटा में 63.58, मैनपुरी में 60.80, फर्रुखाबाद में 54. 55, कन्नौज में 60.28, इटावा में 58.35, औरैया में 57.55, कानपुर देहात में 58.48, कानपुर नगर में 50.76, जालौन में 53.84, झांसी में 57.71, ललितपुर में 67.38, हमीरपुर में 57.90 और महोबा में औसतन 62.02 प्रतिशत मतदान हुआ.

इन जिलों में शुक्रवार शाम को चुनाव प्रचार समाप्त हो गया था. समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और अखिलेश की पत्‍नी एवं पूर्व सांसद डिंपल यादव ने इटावा जिले के अपने पैतृक गांव सैफई में मतदान किया. मुलायम सिंह यादव व्‍हील चेयर पर मतदान केंद्र पर पहुंचे थे. झांसी के जिला निर्वाचन अधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि गरौठा विधानसभा के मौठ क्षेत्र में जन शिकायतों के अनुसार दो घंटे विलंब से मतदान शुरू हुआ, हालांकि इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को न देकर लापरवाही बरतने वाले सेक्टर मजिस्ट्रेट के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. एटा जिले से मिली खबर के अनुसार जिले की अलीगंज मारहरा विधानसभा क्षेत्र में 10 लोग कथित फर्जी मतदान करते हुए गिरफ्तार किये गये हैं. एटा के अपर पुलिस अधीक्षक धनंजय सिंह कुशवाहा ने बताया कि 10 लोग पकड़े गए हैं जो फर्जी मतदान करने की कोशिश कर रहे थे.

आयोग के अनुसार, तीसरे चरण के चुनाव में कुल 25,794 मतदेय स्थल तथा 15,557 मतदान केन्द्र बनाये थे. तीसरे चरण में मैनपुरी जिले की करहल विधानसभा सीट भी शामिल है, जहां सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) से केंद्रीय मंत्री प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल और मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आमने-सामने हैं. अखिलेश मैनपुरी जिले के करहल क्षेत्र से पहली बार विधानसभा चुनाव में किस्मत आजमा रहे हैं. वर्ष 2017 में सपा के सोबरन सिंह यादव ने इस सीट पर अपनी जीत बरकरार रखी थी. अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव अपनी पारंपरिक जसवंतनगर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.