छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार में दर्दनाक हादसा, मुसाफिरों से भरी पिकअप को ट्रक ने रौंदा, 6 की मौत इतने लोग घायल..

86
road accident

छत्तीसगढ़ में बड़ा दर्दनाक हादसा सामने आया है। इस भयंकर हादसे में एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत हुई है , वही भारी संख्या में लोग घायल हो गए हो गए है। मारे गए लोगों में एक बच्चा और छह महिलाएं शामिल है। इस हादसे से इलाके में अफरा – तफरी मच गयी। हादसे की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में लेकर घायल लोगों का इलाज शुरू कर दिया है। इस हादसे में राज्य के सीएम भूपेश बघेल ने शोक व्यक्त किया है।

हादसे का शिकार हुई पिकअप में दो दर्जन से ज्यादा लोग थे सवार

जानकारी के मुताबिक़, यह हादसा छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार के गोदा पल पर हुआ है। सामने से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने यात्रियों से भरी पिकअप को रौद दिया। इस भीषण हादसे में एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत हो गई। हादसे की सुचना मिलने पर मौके पर पहुंची पलारी पुलिस ने हादसे में मारे गए लोगों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इसके साथ ही पुलिस ने इस मामले की पड़ताल शुरू कर दी है। आपको बता दें कि , हादसे के समय पिकअप में तकरीबन दो दर्जन से ज्यादा लोग सवार थे। हादसे के बाद घटनास्थल पर चीखपुकार मच गयी। स्थानीय लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी , उसके बाद हादसे में जख्मी लोगों को अस्पताल पहुंचाया।

हादसे की जांच कर रहे एसएसपी दीपक झा दी ये जानकारी

हादसे की जानकारी देते हुए बलौदा बाजार एसएसपी दीपक झा ने बताया कि, ”दो दर्जन से अधिक लोगों को ले जा रही पिकअप गाड़ी को ट्रक ने टक्कर मार दी। जिसमें छह लोगों की मौत हो गई। दुर्घटना पलारी पुलिस थाना क्षेत्र के तहत गोदा पुल के पास हुई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। वही घायलों को अस्पताल पहुँचाया गया है।”

सीएम ने जताया शोक

बलौदा बाजार में गोदा पुल पर हुए हादसे में मरे और जख्मी लोगों पर सीएम भूपेश सिंह बघेल ने दुःख जताया है। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा है कि, ”बलौदाबाजार जिले में थाना पलारी क्षेत्र में गौड़ा पुलिया के पास बीती रात ट्रक और पिकअप की टक्कर में 6 लोगों की मृत्यु का समाचार बेहद दुखद है। ईश्वर दिवंगतजनों के परिवारों को हिम्मत दे। हम सब दुःख में साथ हैं। जिला प्रशासन के अधिकारियों को इस दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को हर संभव सहायता और घायलों को इलाज की बेहतर से बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। ॐ शांति:”