उत्तर कोरिया ने अमेरिका से वार्ता करने वाले प्रस्ताव को ठुकराया, बोला- विरोधी नीतियों को छोड़े तभी होगी बातचीत

365
North Korean dictator KIm Jong Un
North Korean dictator KIm Jong Un

उत्तर कोरिया ने गुरुवार को कहा कि वह अमेरिका की तरफ से वार्ता की पेशकश को तब तक नजरअंदाज करता रहेगा जब कि वह हमारे देश के प्रति शत्रुतापूर्ण नीतियों को खत्म नहीं करता है। उत्तर कोरिया का यह बयान ऐसे समय में आया है जब वाशिंगटन ने कहा था कि उसने प्योंगयांग से विभिन्न माध्यमों से संपर्क साधने की कोशिश की लेकिन बदले में कोई जवाब नहीं मिला।

उत्तर कोरियाई विदेश मंत्री चो सोन हुई की ओर से यह बयान दक्षिण कोरिया और अमेरिका के शीर्ष राजनयिकों और रक्षा प्रमुखों के बीच सियोल में होने वाली बैठक से कुछ घंटे पहले आया है। यह संयुक्त बैठक उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम पर चर्चा करने के लिए पांच वर्षों में पहली बार होने जा रही है।

उन्होंने सरकारी मीडिया के हवाले से कहा, हमें ऐसा नहीं लगता है कि अमेरिका के टालने वाले रवैये पर प्रतिक्रिया देने की कोई जरूरत है। हम अपना रुख पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं। इसलिए हम भविष्य में भी अमेरिका की तरफ से बातचीत के लिए होने वाली किसी भी कोशिश को नजरअंदाज करेंगे।