ब्रिटेन से पूरी दुनिया में पैर पसार रहा कोरोना का नया वेरिएंट, रूस में भी नए स्ट्रेन के संक्रमण की हुई पुष्टि

397

दुनियाभर में कोरोना के नए स्ट्रेन से पीड़ित मरीज मिल रहे हैं। हाल ही में ब्रिटेन से लौटे एक रूसी व्यक्ति के शरीर में पहले से अधिक संक्रामक वाला कोरोना वायरस मिला है। रूस में इस तरह का पहला केस है। 

रूस ने पिछले महीने ब्रिटेन के लिए उड़ानों को निलंबित कर दिया था क्योंकि वहां अधिक संक्रामक संस्करण का पता चला था। लेकिन ऐसा एक मामला सामने आने से खलबली मच गई है और अब बाहर देश से आने वाले सभी की गहन जांच की जा रही है।

वहीं रूस में पिछले 24 घंटे में 22,851 कोरोना वायरस के नए मामले सामने आए हैं। वहीं रूस में अब तक  3,401,954 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं रूसी सरकार ने टेस्टिंग में काफी इजाफा किया है।

वहीं रूस में पिछले 24 घंटे में 456 लोगों की मृत्यु हो गई है। वहीं अब तक मरने वालों की संख्या 61,837 हो गई है, वहीं एक दिन पहले 470 मौतें हुईं थी। नया स्ट्रेन बहुत संक्रामक बताया जा रहा है। इसे लेकर रूसी सरकार सतर्क है।

गौरतलब है कि ब्रिटेन में पिछले महीने कोरोना का नया स्ट्रेन सामने आया था, जो पुराने स्ट्रेन से 70 फीसदी ज्यादा संक्रामक है। हालांकि, नया स्ट्रेन पहले के मुकाबले कम घातक बताया जा रहा है। ऐसे में कोरोना संक्रमण और मौत के बढ़ते मामलों को देखते हुए ब्रिटेन में 4 जनवरी से एक बार फिर सख्त लॉकडाउन लगा दिया गया।

नया स्ट्रेन मिलने के बाद ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण और मौत के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। हालात इतने ज्यादा बिगड़ चुके हैं कि पिछले छह दिन से ब्रिटेन में लगातार 50 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपना भारत दौरा भी रद्द कर दिया। माना जा रहा है कि ब्रिटेन इस वक्त कोरोना वायरस की तीसरी लहर की चपेट में है।