ज्योतिरादित्य सिंधिया की जनसभा में आए बुजुर्ग किसान की दिल का दौरा पड़ने से मौत पर सियासत तेज कांग्रेस ने बोला हमला

785

मध्य प्रदेश में भाजपा के स्टार प्रचारक ज्योतिरादित्य सिंधिया की मांधाता विधानसभा सीट उपचुनाव के लिए रविवार को मूंदी में आयोजित जनसभा में एक बुजुर्ग किसान की कथित रूप से दिल का दौरा पड़ने के चलते मौत हो गई। इस घटना को लेकर कांग्रेस ने भाजपा पर हमला बोला है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि किसान की मौत के बाद भी भाजपा नेता मंच से भाषण देते रहे और उनका कोई भी नेता मंच से नीचे नहीं उतरा।

मूंदी पुलिस थाना प्रभारी अंतिम पवार ने बताया कि ग्राम चांदपुर निवासी 70 वर्षीय किसान जीवन सिंह मूंदी में रविवार को आयोजित रैली में गए थे। अचानक उनकी तबियत बिगड़ गई जिससे वह कुर्सी पर ही गिर गए। उनको तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया। प्रारंभिक छानबीन में पता चला है कि किसान जीवन सिंह की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई। जब सिंधिया बाद में मंच पर पहुंचे और उन्होंने किसान की मौत के बारे में जानकारी मिलने पर सभा के दौरान एक मिनट का मौन रखकर जीवन सिंह को श्रद्धांजलि दी। बताया जाता है कि खंडवा जिले की मांधाता विधानसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा के उम्मीदवार नारायण पटेल के चुनाव प्रचार में यह जनसभा आयोजित की गई थी।

कांग्रेस ने इसे भाजपा का असंवेदनहीन व्यवहार बताया है। कांग्रेस नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने हमला बोलते हुए सिंधि‍या और मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का आरोप लगाया। मध्‍य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा कि ‘भाजपा के कार्यक्रम में किसान की मौत हो गई लेकिन भाजपा नेताओं की बयानबाजी जारी रही। शिवराज जी जनता से नहीं कम से कम भगवान से तो डरिए।’

गौरतलब है कि कांग्रेस सिंधिया और भाजपा में आए उनके समर्थक नेताओं पर गद्दारी जैसे आरोप लगा रही है। सिंधिया कई अवसरों पर इनका जवाब दे चुके हैं लेकिन चुनावी बयार के अंतिम दौर की ओर बढ़ता देख भाजपा और आक्रामक रुख अपना रही है। भाजपा अपनी महिला उम्‍मीदवार इमरती देवी पर दिए गए कमलनाथ के अमर्यादित बयान को लेकर कांग्रेस को घेर रही है। फिलहाल सिंधिया ने मालवा-निमाड़ और सांवेर क्षेत्र में चुनावी सभाओं से मोर्चा संभाला है।