ICICI और Axis ने ग्राहकों को बड़ा झटका दिया, कैश डिपॉजिट मशीन के जरिए पैसे जमा करने पर फीस देनी पड़ेगी

370

प्राइवेट सेक्टर के आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक ने ग्राहकों को बड़ा झटका दिया है. बैंक ने बताया कि अब से नॉन-बिजनेस आवर्स में और छुट्टियों के दिन कैश रिसाइकलर और कैश डिपॉजिट मशीन के जरिए पैसे जमा करने पर फीस देनी पड़ सकती है. अब अगर आप छुट्टी वाले दिन या फिर बैंक के समय के अलावा कैश रिसाइकलर और कैश डिपॉजिट मशीन का इस्तेमाल करते हैं तो ग्राहकों से सुविधा शुल्क के रूप में 50 रुपए चार्ज लिया जाएगा. बैंक के नोटिफिकेशन के मुताबिक, आईसीआईसीआई बैंक छुट्टियों के दिन और वर्किग डेज में शाम 6 बजे से सुबह 8 बजे तक ग्राहकों से सुविधा शुल्क के रूप में 50 रुपए लेगा.

बैंक ने बताया कि सीनियर सिटीजन्स, बेसिक सेविंग्स बैंक अकाउंट, जनधन अकाउंट्स, अक्षम और दृष्टिबाधित खातों और स्टूडेंट्स के खातों पर इस तरह का कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा.

बैंक ऑफ बड़ौदा ने भी 1 नवंबर से अपने ग्राहकों को निर्धारित सीमा से अधिक लेनदेन के लिए शुल्क देना शुरू कर दिया है. बैंक ने बताया कि करंट अकाउंट/ओवरड्राफ्ट/सीसी से बेस ब्रांच, लोकल नॉन बेस ब्रांच और आउटस्टेशन ब्रांच के जरिए अब एक माह में 3 बार कैश निकालना फ्री है. वहीं, चौथी बार से 150 रुपए प्रति ट्रांजेक्शन का चार्ज लगेगा.

कहा जा रहा है कि एक महीने में तीन बार निकासी मुफ्त होगी लेकिन इसके बाद 150 रुपए के फ्लैट शुल्क पर निकासी लेनदेन शुल्क लगाया जाएगा. इसी तरह, एक महीने में तीन बार जमा मुफ्त होगा लेकिन इसके बाद प्रत्येक लेनदेन पर 40 रुपए का शुल्क लगाया जाएगा.