233 अंक की तेजी के साथ खुला सेंसेक्स, बैंकिंग, ऑटोमोबाइल कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त तेज़ी

268

घरेलू शेयर बाजारों में मंगलवार को शुरुआती सत्र में बैंकिंग, फाइनेंस और ऑटोमोबाइल कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त लिवाली देखने को मिली। इस वजह से BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 233 अंक की बढ़त के साथ खुला और बाद में इसमें और तेजी देखने को मिली। सुबह 09:38 बजे सेंसेक्स पर 382.61 अंक यानी 0.96 फीसद की तेजी के साथ ट्रेडिंग हो रही थी। दूसरी ओर सुबह 09:47 बजे NSE निफ़्टी पर 119.65 अंक यानी 1.03 फीसद की तेजी के साथ 11,788.80 अंक के स्तर पर ट्रेडिंग चल रही थी। 

सेंसेक्स पर सुबह 09:38 बजे तक ICICI Bank के शेयरों में सबसे ज्यादा 4.02 फीसद की तेजी देखने को मिल रही थी। इसके अलावा SBI के शेयरों में 3.27 फीसद की तेजी देखने को मिली। वहीं, इंडसइंड बैंक के शेयरों में 2.85 फीसद का उछाल देखने को मिला। 

इनके अलावा एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, टाटा स्टील, एक्सिस बैंक, पावरग्रिड, बजाज फाइनेंस, ओएनजीसी, एनटीपीसी, बजाज फिनजर्व, लार्सन एंड टुब्रो, बजाज ऑटो, टेक महिंद्रा, टीसीएस, टाइटन, एचसीएल टेक, आईटीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, सन फार्मा, कोटक महिंद्रा बैंक, नेस्ले इंडिया, मारुति और रिलायंस के शेयरों में भी हरे निशान के साथ ट्रेडिंग हो रही थी। 

शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को शुद्ध आधार पर 740.61 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की लिवाली की। 

दूसरी ओर भारती एयरटेल के शेयर में 0.79 फीसद की सर्वाधिक गिरावट देखने को मिली। इन्फोसिस, एशियन पेंट्स, अल्ट्राटेक सीमेंट और हिन्दुस्तान युनिलीवर लिमिटेड के शेयरों पर भी लाल निशान के साथ कारोबार हो रहा था।

इससे पिछले सत्र में सेंसेक्स 143.51 अंक या 0.36 फीसद चढ़कर 39,757.58 अंक के स्तर पर बंद हुआ था। दूसरी ओर निफ़्टी 26.75 अंक यानी 0.23 फीसद चढ़कर  11,669.15 अंक के स्तर पर बंद हुआ था।

रिलायंस सिक्योरिटीज में संस्थागत कारोबार विभाग के प्रमुख अर्जुन यश महाजन ने कहा कि वैश्विक संकेतों के आधार पर भारत में ठीक-ठाक कारोबार होता दिख रहा है। हालांकि, उन्होंने आगाह किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव और कोविड-19 के मामलों की वजह से बाजार में उतार-चढ़ाव का रुख देखने को मिल सकता है।