लखनऊ: हजरतगंज में चलेगी गोल्फ कार्ट, हुसैनाबाद में बनेगा गुलाब पार्क

243
Hazratganj

हजरतगंज में जल्दी ही गोल्फ कार्ट चलेंगी। पार्किंग में वाहन खड़ा करने वाले लोग दुकानों तक गोल्फ कार्ट से आ जा सकेंगे। पूरे हजरतगंज क्षेत्र में कहीं भी सड़क पर वाहन नहीं दिखाई देंगे। इसके लिए पुलिस की मदद से लगातार अभियान चलेगा। हुसैनाबाद में गुलाब पार्क विकसित किया जाएगा। यह महत्वपूर्ण निर्णय शनिवार को प्रदेश के सलाहकार केशव वर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया।

शहर के विकास और व्यवस्थित यातायात के संबंध में प्रदेश के सलाहकार ने बैठक बुलाई थी। एलडीए में हुई बैठक में नगर आयुक्त अजय द्विवेदी, एलडीए उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी के अलावा पुलिस, लोक निर्माण विभाग और कई विभागों के अफसर भी रहे। तय हुआ कि हजरतगंज की यातायात व्यवस्था दुरुस्त कराने के लिए सड़कों पर पार्किंग प्रतिबंधित की जाए। मल्टीलेवल पार्किंग में गाड़ियां खड़ी करने वाले लोगों को दुकानों तक ले जाने के लिए गोल्फ कार्ट चलाई जाएं। इसका किराया मामूली होगा। पहले चरण में हजरतगंज मल्टीलेवल पार्किंग से चार गोल्फ कार्ट गाड़ियां चलाई जाएंगी। दूसरे चरण में सरोजनी नायडू भूमिगत पार्किंग, लालबाग स्थित दया निधान भूमिगत पार्किंग से भी गोल्फ कार्ट चलाई जाएंगी। बैठक में हुसैनाबाद क्षेत्र में एक बेहतरीन गुलाब पार्क बनाने का निर्णय हुआ। इसमें गुलाब के फूलों की सभी प्रजाति उपलब्ध होगी। इसके निर्माण की जिम्मेदारी लखनऊ विकास प्राधिकरण को दी गई है। यह पार्क पर्यटकों और शहर के लोगों के आकर्षण का केन्द्र होगा।

  • कैसरबाग, अमीनाबाद, अवध चौराहा, हजरतगंज, सप्रू मार्ग समेत कुल एक दर्जन चौराहे सुधारे जाएंगे।
  • सप्रू मार्ग को फिर दुरुस्त किया जाएगा। इसे स्मार्ट रोड बनाया गया था, लेकिन दो साल में बदहाल हुआ।
  • हजरतगंज क्षेत्र में वाहनों का आवागमन कम करने के लिए आसपास के कुछ रूट वन वे किए जाएंगे।
  • इमारतों की रंगाई-पुताई एक जैसी होगी, नाले नालियों पर ढक्कन लगाए जाएंगे।
  • हजरतगंज, कैसरबाग, अमीनाबाद और आसपास के क्षेत्रों की ग्रिल की रंगाई पुताई होगी।
  • सड़क पर खड़े वाहनों को क्रेन से उठाया जाएगा, इन इलाकों से अतिक्रमण हटाया जाएगा।
  • यूटिलिटी डक्ट बनाया जाएगा, जिसमें तारों को शिफ्ट किया जाएगा

हजरतगंज में गोल्फकार्ट चलेंगी। पहले चरण में मल्टी लेवल पार्किंग से चार गोल्फकार्ट चलाई जाएंगी। कैसरबाग, अमीनाबाद, हजरतगंज में बरामदे, सड़कों से कब्जे हटाए जाएंगे। सभी इमारतें भी एक रंग में होंगी, लाइटिंग की जाएगी।