एक्ट्रेस गहना वशिष्ट को पोर्न फिल्म मामले में मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत-गिरफ्तारी पर लगी रोक

464

वेब सीरिज़ ‘गंदी बात’ में नज़र आ चुकी एक्ट्रेस गहना वशिष्ट (Gehana Vasisth ) ‘अश्लील वीडियो’ (Porn Video) केस में आरोपी हैं। इस समय गहना पोर्नोग्राफी मामले को लेकर खूब सुर्खियों में हैं। राज कुंद्रा मामले (Raj Kundra Case) में उनका भी नाम जुड़ा है। इसी फरवरी महीने में मुंबई पुलिस ने गहना वशिष्ठ को ‘पोर्न फिल्में’ (Pornography Case) बनाने और उन्हें ऐप्स पर प्रसारित करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। चार महीने हिरासत में गुज़ारने के बाद गहना फिलहाल जमानत पर बाहर हैं। इसी बीच अब लेटेस्ट खबरों के मुताबिक, पोर्न फिल्म मामले में अभिनेत्री गहना वशिष्ठ को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से राहत मिली है।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दर्ज तीसरी एफआईआर(FIR) में गहना वशिष्ठ की गिरफ्तार पर रोक लगाई है। इस मामले में कोर्ट की तरफ से कहा गया है कि जरूरत पड़ने पर उन्हें यानि कि गहना वशिष्ठ को जांच में शामिल होना होगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने बॉम्बे हाई कोर्ट के फैसले पर रोक लगाई है। बॉम्बे हाई कोर्ट द्वारा उनकी अग्रिम ज़मानत अर्जी खारिज करने के फैसले को चुनौती दी थी। जिसपर अब सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला सुनाया है।

बता दें कि पोर्नोग्राफी जैसे मामले में बिजनेसमैन राज कुंद्रा(Raj Kundra) की गिरफ्तारी के बाद भी गहना ने उनका समर्थन किया था। यहां तक कि एक न्यूड वीडियो डालकर गहना ने लोगों को पोर्न और एरॉटिक वीडियो में फर्क समझाने की कोशिश भी की थी। गहना वशिष्ट आए दिन इस केस को लेकर मुंबई पुलिस पर निशाने भी साधती रहती हैं।

इतना ही नहीं बीते दिन जब राज कुंद्रा को 2 महीने बाद इस मामले में जमानत दी गई तो गहना ने उनके लिए पोस्ट भी शेयर किया। राज के जेल से बाहर आने के बाद गहना काफी खुश हैं और इसे सच्चाई की जीत बताई गहना ने अपनी खुशी शेयर करते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट किया और लिखा, ‘हार्दिक बधाई… आपका स्वागत है आरके …. आपको प्रणाम, आप एक बहादुर आदमी हैं।

गौरतलब है कि इस मामले में गहना और उनके सहयोगियों की सबसे पहले 21 फरवरी, 2021 को गिरफ्तारी हुई थी। बाद में गहना को जमानत पर रिहा कर दिया गया था। जब से उनकी गिरफ़्तारी हुई तभी से इस केस की जांच की जा रही है। जांच में इस मामले के तार शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा से जुड़े मिले जिसके बाद पुलिस ने उन्हें 19 जुलाई को गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि अब उन्हें भी बेल दी जा चुकी है।