पूर्व मुख्यमंत्री मायावती करेंगी 2 फरवरी को आगरा में रैली, आज ट्विटर पर सपा-भाजपा पर बोला हमला

295
Mayawati
Mayawati targets bjp

बीएसपी के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए ट्विटर पर लिखा, ”अवगत कराना है कि दिनांक 2 फरवरी 2022 को बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री माननीया बहन कु. मायावती जी आगरा में कोविड नियमों का पालन करते हुए जनसभा को संबोधित करेंगी। जनसभा का समय, स्थान और आगामी जनसभाओं की सूचना मीडिया बंधुओं को शीघ्र उपलब्ध कराई जाएगी।”

बसपा की अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) पर राजनीति का अपराधीकरण करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश को जंगलराज में धकेलने के बाद भी इनकी ‘जुमलेबाजी’ जारी है।

सके जवाब में हालांकि मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ ने विपक्षी दलों पर सत्ता में रहते हुए खुद कोई काम किये बिना सिर्फ चुनाव के समय तोहमत जड़ने का आरोप लगाया।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मायावती ने मंगलवार को अपने विरोधी दल भाजपा पर जुमले बाजी करने और सपा पर अराजक तत्वों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। सपा और भाजपा का नाम लिए बिना उन्होंने ट्वीटर पर कहा, ”बीएसपी को छोड़ सभी पार्टियों की सरकारें राजनीति के अपराधीकरण व अपराध के राजनीतिकरण, कानून के साथ खिलवाड़ और अपनी पार्टी के गुंडों और माफियाओं को संरक्षण आदि से यूपी को जंगलराज में ढकेल इसे गरीब व पिछड़ा बनाए रखकर जनता को त्रस्त करने की दोषी, लेकिन इनकी जुमलेबाजी जारी।”

इसके कुछ समय बाद ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी पलटवार कर सपा और बसपा का नाम लिए बिना ही कहा कि विपक्षी दल जब सत्ता में होते हैं तब कोई काम नहीं करते हैं और चुनाव आने पर आरोपों के तीर चलाने लगते हैं। योगी ने ट्वीट कर तंज कसा, ”एक कहावत है, ‘करें न धरें, तरकस पहने फिरें’… पूरे विपक्ष का यही हाल है। सत्ता में रहे तो कुछ करा न धरा, अब चुनाव के समय सब ‘तरकस’ पहने फिर रहे हैं।”