FATF में पाकिस्तान के भाग्य का अहम फैसला आज, बना है आतंकियों की पनाहगाह

315
imran khan
imran khan

फ्रांस की राजधानी पेरिस में चल रही फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF, एफएटीएफ) की पूर्ण बैठक के आखिरी दिन आज यानी 23 अक्तूबर को यह अहम फैसला हो सकता है कि पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में रखना है या ब्लैक लिस्ट में डालना है। वैश्विक आतंकवाद की पनाहगाह बने पाकिस्तान पर यह अहम फैसला आने से पहले आतंकियों को अपनी जमीन पर शरण देने और उनकी फंडिंग रोकने के लिए उचित कदम नहीं उठाने के आरोप पर भारत ने अपने इस पड़ोसी देश को आईना दिखाया है।

भारत ने पाकिस्तान का सच्चाई से दुनिया के सामने पर्दा उठाया और बताया है कि पाक ने 27 में से सिर्फ 21 बिंदुओं पर काम किया है और अभी भी वहां आतंकियों को पनाह दी जा रही है। भारत ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र की सूची में शामिल जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया और दाउद इब्राहिम जैसे आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने में विफल रहा है। 

भारत ने आरोप लगाया है कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कही इकाइयों और लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की है। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा है कि एफएटीएफ के 6 ऐसे अहम बिंदु हैं जिन पर पाकिस्तान ने कोई काम नहीं किया है।