WHO ने ओमिक्रॉन को लेकर जताई चिंता कहा – अब तक 63 देशों में दस्तक दे चुका है नया वायरस जल्द डेल्टा वेरिएंट को छोड़ेगा पीछे

207
omicron-variant-outbreak-in-india

कोरोना वायरस के नए संक्रमण ओमिक्रॉन ने पूरे विश्व में दहशत फैला रखी है। हर रोज ओमिक्रॉन के मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। इस बीच WHO का एक चौका देने वाला बयान सामने आया है। WHO ने कहा है कि ओमिक्रॉन अब तक 63 देशों में फैल चुका है। WHO ने कहा कि संक्रमण की रफ्तार को देखने के बाद ऐसा लग रहा है कि कुछ ही समय में यह डेल्टा वेरिएंट को पछाड़ देगा।

WHO ने कहा कि हमें यह समझ में नही आ रहा है कि आखिर यह इतनी तेजी से फैल कैसे रहा है। WHO ने बताया कि 9 दिसंबर तक 63 देशों में कोरोना के नए संक्रमण ओमिक्रॉन के मामले सामने आए हैं। मिले आंकड़ों के अनुसार अंदाजा लगा जा रहा है कि यह कुछ ही समय में यह डेल्टा वेरिएंट को पीछे छोड़ देगा।

WHO ने कहा कि यदि ओमिक्रॉन संक्रमण से जुड़े प्रारंभिक आंकड़ों को देखा जाए तो ये कोविड के टीके के प्रभाव को कम कर सकता है। इसके साथ ही WHO ने एक राहत देने वाला बयाय भी जारी किया। WHO ने कहा कि हांलाकि ओमिक्रॉन डेल्टा की तुलना में कम खतरनाक है।

बता दें कि दक्षिण अफ्रीका में सबसे पहले ओमिक्रॉन का पता चला था। उसके शुरुआती आंकड़ों के अध्ययन से यह पता चलता है कि कोरोना की वैक्सीन कुछ हद तक सुरक्षा प्रदान करने में सक्षम है, लेकिन ताजे अपडेट के बाद ओमिक्रॉन पर वैक्सीन के असर को लेकर एक बार फिर से चर्चा शुरू हो गई है कि क्या वैक्सीन का इस नए वेरिएंट पर असर होगा या नहीं होगा।

भारत में अबतक ओमिक्रॉन के 38 केस आ चुके हैं सामने

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के आंध्र प्रदेश और चंडीगढ़ में आज एक-एक केस सामने आया है। महाराष्ट्र के नागपुर में ओमिक्रॉन का नया मामला सामने आया है। देश में अब तक कुल 38 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। अब तक महाराष्ट्र में 18, राजस्थान में 9, गुजरात में 3, कर्नाटक में 3, दिल्ली में 2, चंडीगढ़, आंध्र प्रदेश और केरल में 1-1 संक्रमित मामले आए हैं।