धीमी पड़ी टीकाकरण की रफ्तार: देशभर के कई शहरों में वैक्सीन की किल्लत, मुंबई में कहीं भी नहीं लग रहा टीका

    476

    देशभर के कई शहरों में कोविड वैक्सीन की किल्लत की शिकायतें मिल रही हैं. जिस वजह से वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी पड़ गई है. वैक्सीन की कमी की वजह से आज पूरे मुंबई में कहीं भी टीका नहीं लगाया जा रहा है. यहां टीकाकरण अभियान को बंद करना पड़ा है. हालांकि लोगों को इसकी जानकारी नहीं थी जिसकी वजह से वैक्सीनेशन सेंटर पर सुबह से ही लोगों की लाइन देखने को मिल रही है.

    देशभर में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था. 21 जून को रिकॉर्ड 90 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगा था. लेकिन अब रफ्तार सुस्त हो गई है. अबतक करीब 37 करोड़ वैक्सीन के टीके लगाए जा चुके हैं. लेकिन शुक्रवार को सिर्फ 40 लाख लोगों को ही टीका लगाया गया. जहां वैक्सीनेशन ने 90 लाख का आंकड़ा छू लिया था, अब ये आधे से भी कम पर आ चुका है. इसका एक कारण देश में फिर से वैक्सीन की कमी को भी माना जा रहा है.

    पिछले 15 दिनों का देश का वैक्सीनेशन चार्ट

    8 जुलाई- 40.23 लाख
    7 जुलाई- 36.05 लाख
    6 जुलाई- 45.82 लाख
    5 जुलाई- 14.81 लाख
    4 जुलाई- 63.87 लाख
    3 जुलाई- 43.99 लाख
    2 जुलाई- 42.64 लाख
    1 जुलाई- 27.60 लाख
    30 जून- 36.51 लाख
    29 जून- 52.76 लाख
    28 जून- 17.21 लाख
    27 जून- 64.25 लाख
    26 जून- 61.19 लाख
    25 जून- 60.73 लाख
    24 जून- 64.89 लाख
    23 जून- 54.24 लाख

    मुंबई में कब शुरू होगा टीकाकरण
    बीएमसी के बयान के अनुसार टीके का नया भंडार आने के बाद ही टीकाकरण अभियान बहाल होगा. बयान में कहा गया है, ‘मुंबई के नागरिकों को टीके के भंडार की उपलब्धता के आधार पर टीकाकरण के बारे में निरंतर सूचना दी जाती है और इस संबंध में एक उपयुक्त फैसला किया गया है.’ इससे पहले, एक जुलाई को बीएमसी ने टीके की कमी के चलते निगम औऱ सरकार संचालित टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण अभियान निलंबित कर दिया था.

    बीएमसी के अनुसार बुधवार तक महानगर में 58,84,019 लोगों का टीकाकरण किया गया जिनमें 12,29,546 लोगों को दोनों खुराक दी जा चुकी है. महानगर में फिलहाल 401 कोविड टीकाकरण केंद्र हैं जिनमें 283 को बीएमसी चलाती है जबकि 20 के संचालन का जिम्मा सरकार और 98 का निजी अस्पतालों के पास है.