राहुल गांधी के बयान पर जावड़ेकर का पलटवार, बोले- आप नहीं समझेंगे, M से महात्मा गांधी

203

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के एक ट्वीट से फिर सियासत तेज हो गई है। उन्होंने ट्वीट में कहा कि दुनिया में कई तानाशाहों के नाम ‘एम’ से क्यों शुरू होते हैं? उन्होंने उदाहरण के लिए मार्कोस, मुसोलिनी, मिलोसेविक, हुस्नी मुबारक, मोबुतू, मिकोमबेरो, मुशर्रफ के नाम भी दिए। राहुल के इस बयान का भाजपा ने काफी जोरदार पलटवार किया है।

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर लिखा,एम से मोहन दास भी थे – साबरमती के संत, बापू। भारत की मिट्टी की बात ही अलग है, ये तानाशाह नहीं बुद्ध और महावीर की वसुधा है। छोड़िये आप नहीं समझेंगे राहुल जी।’

M से Mohandas भी थे – साबरमती के संत, बापू – the greatest apostle of truth and non-violence.

भारत की मिटटी की बात ही अलग है, ये तानाशाह नहीं बुद्ध और महावीर की वसुधा है।

छोड़िये आप नहीं समझेंगे @RahulGandhi ji…

राहुल गांधी के तानाशाह वाले ट्वीट पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, जे.पी. नड्डा ने कहा कि क्या जरुरी है कि राहुल गांधी को गंभीरता से लिया जाए? उनका भारतीय राजनीति को लेकर क्या दृष्टिकोण रहा है यह सब जानते हैं।

राहुल गांधी के बयान पर हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि अंजान राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि अधिकतर तानाशाहों के नाम एम से शुरू होते हैं। मैंने उनसे पूछा है कि मोहनदास करमचंद गांधी अहिंसा के पुजारी थे जो सारे विश्व में जाने जाते हैं। उनका नाम भी M शब्द से शुरू होता है। उनके बारे में उनकी क्या राय है?’

सोशल मीडिया पर तरह- तरह के कमेंट

वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ट्वीट पर ट्विटर यूजर ने भी तरह-तरह के कमेंट किए हैं। एक यूजर ने लिखा है कि एम से ही मनमोहन सिंह और मोतीलाल नेहरू का भी नाम शुरू होता है। वहीं पंकज शंकर नाम के एक यूजर ने लिखा है कि एम से ही मनमोहन सिंह, मोतीलाल नेहरु, एम के स्टलीन औऱ ममता बनर्जी का भी नाम है। आपको बता दें कि राहुल ने इस ट्वीट में लिखा था कि इतने सारे तानाशाहों के नाम ‘M’ से ही क्यों शुरू होते हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में जिन तानाशाहों के नाम शेयर किए उनमें मार्कोस, मुसोलिनी, मिलोसेविक, हुस्नी मुबारक, मोबुतू, मिकोमबेरो, मुशर्रफ के नाम शामिल थे।

कृषि कानून को लेकर लगातार भाजपा पर निशाना साध रहे हैं राहुल गांधी

कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार केंद्र की भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते आ रहे हैं। इससे पहले मंगलवार को भी राहुल गांधी ने दिल्ली की सीमाओं पर किसान आंदोलन के चलते दिल्ली पुलिस की ओर से किए गए बैरिकेडिंग और सड़कों पर कीलें गाड़ने को लेकर मोदी सरकार को नसीहत दी थी। उन्होंने कहा था कि भारत सरकार को पुल बनाने चाहिए, दीवारें नहीं।