अमेरिका: जो बाइडन ने ली 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ, जाने राष्ट्रपति ने अपने पहले भाषण में क्या कहा

585

अमेरिका में आज (20 जनवरी) सुबह 11:30 बजे (अमेरिकी समयानुसार) जो बाइडन ने शपथ ग्रहण की। इसके बाद वह दुनिया के सबसे ताकतवर देश के 46वें राष्ट्रपति बन गए। वैसे अमेरिका का राष्ट्रपति देश का सबसे ताकतवर शख्स होता है, लेकिन फेडरल कानून के तहत उसकी भी मर्यादा और सीमा तय की गई हैं। इस रिपोर्ट में जानते हैं कि राष्ट्रपति बनने के बाद जो बाइडन को कितनी सैलरी मिलेगी? साथ ही, उन्हें क्या-क्या सुविधाएं दी जाएंगी?

बता दें कि अमेरिकी कानून के हिसाब से अमेरिकी राष्ट्रपति का सालाना वेतन चार लाख अमेरिकी डॉलर तय किया गया है। भारतीय मुद्रा में यह रकम करीब दो करोड़ 92 लाख रुपये होती है। इसके अलावा राष्ट्रपति को सालाना 50 हजार डॉलर का भत्ते के तौर पर मिलते हैं। वहीं, एक लाख डॉलर का नॉन टैक्सेबल ट्रैवल अलाउंस दिया जाता है। साथ ही, 19 हजार डॉलर मनोरंजन भत्ते के तौर पर दिए जाते हैं, जिन्हें राष्ट्रपति अपने परिवार के मनोरंजन के लिए खर्च कर सकते हैं। गौर करने वाली बात यह है कि फर्स्ट लेडी यानी राष्ट्रपति की पत्नी को कोई सैलरी नहीं मिलती है। 

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बुधवार को शपथ ग्रहण करने के बाद अपने पहले भाषण में कहा कि लोकतंत्र की जीत हुई है। उन्होंने कहा, ”आज का दिन अमेरिका का है। यह लोकतंत्र का दिन है। यह इतिहास और आशा का दिन है।” बाइडेन ने कहा, ”आज हम एक उम्मीदवार की जीत का नहीं, बल्कि एक उद्देश्य की, लोकतंत्र के उद्देश्य की जीत का उत्सव मना रहे हैं।” देश के नए राष्ट्रपति ने कहा, ”जनता की इच्छाओं को सुना और समझा गया है।” उन्होंने कहा, ”श्वेतों को श्रेष्ठ मानने की मानसिकता, घरेलू आतंकवाद को हराएंगे। मैं चाहता हूं कि प्रत्येक अमेरिकी हमारी इस लड़ाई में शामिल हो।”