“UPSC छात्रों को मिले दो अतिरिक्त मौके” बोले कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी

461
Adhir-Ranjan-wrote-letter-to-PM-Modi

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर सिविल सेवा परीक्षा और दूसरी केंद्रीय परीक्षाओं के अभ्यर्थियों को राहत देने की मांग की है. चौधरी ने पीएम से अनुरोध किया कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए 2020 और 2021 में शामिल हुए अभ्यर्थियों को दो अतिरिक्त मौके और उम्र सीमा में छूट दी जानी चाहिए.

चौधरी ने पत्र में लिखा, “कई अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल नहीं हो पाए, क्योंकि वे कोविड वॉरियर्स (डॉक्टर, नर्स, पुलिसकर्मी, बैंक कर्मचारी) थे. ये सभी 2020 और 2021 में पूरे साल दिन-रात अपनी ड्यूटी कर रहे थे. लॉकडाउन के दौरान पूरे देश में बड़े शहरों से छात्रों ने पलायन भी किया था. गांवों या छोटे शहरों में पढ़ने की पर्याप्त सामग्री नहीं होने, इंटरनेट कनेक्टिविटी और बिजली सप्लाई सही नहीं होने के कारण उनकी तैयारियों पर बुरा असर पड़ा है.”

कांग्रेस सांसद ने यह भी कहा कि परीक्षा से ठीक पहले कई अभ्यर्थी या तो खुद या उनके परिवार में कोई ना कोई कोविड-19 से पॉजिटिव पाए गए. हाल ही में यूपीएससी उम्मीदवारों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर इन्हीं मांगों को लेकर प्रदर्शन किया. उनकी मांग है कि परीक्षा लिखने के लिए उन्हें एक और मौका मिले, क्योंकि कोविड-19 के कारण वे परीक्षा नहीं दे पाए या सही तरीके से तैयारी नहीं कर पाए.