25 साल की कोरोना संक्रमित लड़की को सोनू सूद ने एयरलिफ्ट कर पहुंचाया था अस्पताल, तमाम कोशिश के बावजूद नहीं बची लड़की की जान, भावुक हुए एक्टर बोले- ‘काश ! मैं उसे बचा पाता’

599

सोनू सूद दिन-रात कोरोना संक्रमित लोगों की मदद करने में जुटे हुए हैं। अपनी क्षमता के भीतर सोनू ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से लेकर मरीजों को एयरलिफ्ट कर अस्पताल पहुंचाने का काम कर रहे हैं। बीते दिनों उन्होंने 25 साल की लड़की भारती को नागपुर से हैदराबाद एयर एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया था। अब सोनू सूद ने एक ट्वीट कर जानकारी दी कि उस लड़की का निधन हो गया है।

अस्पताल में कराया था भर्ती

लड़की के फेफड़े 80-90 फीसदी तक कोरोना से संक्रमित हो गए थे। सोनू सूद ने उसे हैदराबाद के अपोलो अस्पताल पहुंचाया था जहां उसे विशेष इलाज की सुविधा दी गई थी हालांकि लड़की को बचाया नहीं जा सका।

ट्वीट कर दी जानकारी

सोनू सूद ने ट्वीट कर लिखा कि ‘भारती, नागपुर की एक यंग लड़की, जिसे मैंने एयरलिफ्ट कर एयर एम्बुलेंस से हैदराबाद पहुंचाया था, उसका बीती रात हैदराबाद में निधन हो गया। ECMO मशीन के जरिए वह एक महीने से जिंदगी के लिए लड़ रही थी। मेरा दिल भारी हो गया परिवार के सदस्यों के लिए और उन सभी के लिए जिन्होंने उसके लिए दुआएं कीं। काश मैं उसे बचा सकता। जिंदगी बहुत अन्यायपूर्ण है।‘ इसके साथ सोनू सूद ने दिल टूट वाला इमोटिकॉन बनाया।

एयरलिफ्ट कर पहुंचाया था अस्पताल

सोनू लगातार अस्पताल के डॉक्टर्स से संपर्क में थे। उन्होंने उस वक्त कहा था कि ‘डॉक्टर्स ने बताया है कि 20 प्रतिशत की उम्मीद है। उन्होंने पूछा कि क्या हम आगे बढ़ें तो मैंने कहा, जी बिल्कुल। वह 25 साल की यंग लड़की है और वह इस मुश्किल घड़ी में मजबूती के साथ जूझेगी और बाहर आएगी इसलिए यह चांस लिया गया और हमने उसे एयर एम्बुलेंस से पहुंचाने का फैसला लिया। देश के सबसे अच्छे डॉक्टर्स की टीम उसका इलाज करेंगे। वह जल्दी ठीक हो जाएगी और वापस आएगी।‘ बता दें कि भारती के पिता रिटायर्ड रेलवे अधिकारी हैं।