पश्चिम बंगाल में 1 जुलाई तक के लिए बढ़ीं पाबंदियां, दुकानें, मॉल व दफ्तर खोलने की रियायतें भी मिलीं

    238

    बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कोरोना के चलते राज्य में लागू पाबंदियों को एक जुलाई तक बढ़ाने की घोषणा की। हालांकि आवश्यक सेवाओं समेत कुछ सेवाओं व कार्यों की छूट दी गई है। प्रमुख रियायतों में दुकानों व शॉपिंग मॉल खोलने की छूट भी शामिल हैं। ये सुबह 11 बजे से शाम छह बजे तक 50 फीसदी स्टाफ के साथ खोले जा सकेंगे। 

     
    ममता बनर्जी ने कहा कि सरकारी दफ्तर 25 प्रतिशत स्टाफ के साथ काम करेंगे। निजी व कार्पोरेट कार्यालय भी सुबह 10 से शाम 4 बजे तक खुल सकेंगे। इनमें भी 25 फीसदी से ज्यादा स्टाफ को नहीं बुलाया जा सकेगा।  राज्य के मुख्य सचिव ए. के. द्विवेदी ने बताया कि बंगाल में सरकारी और निजी कार्यालयों को 25 प्रतिशत कर्मियों के साथ 16 जून से काम करने की इजाजत दी गई है। बंगाल में दर्शकों के बिना स्टेडियम के अंदर खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि राज्य में परिवहन सेवाओं पर पाबंदी जारी रहेगी।

    ये खुलेगा और यह रहेगा बंद
    -रेस्टॉरेंट व बार दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक खुल सकेंगें इनमें कुल क्षमता के 50 फीसदी से ज्यादा लोगों को नहीं बैठाया जा सकेगा। 
    -राज्य में दुकानें, शॉपिंग मॉल व कॉप्लेक्स भी सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक खोले जा सकेंगे। इनमें 50 फीसदी स्टाफ को काम पर बुलाया जा सकेगा। 
    -दर्शकों के बिना स्टेडियम के अंदर खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा सकता है।
    -सरकारी व निजी दफ्तर खोले जाएंगे। इनमें 25 फीसदी से ज्यादा स्टाफ को नहीं बुलाया जाएगा।
    -सारे शिक्षा संस्थान अभी बंद ही रहेंगे। वॉटरवेज भी बंद रहेंगे।
    -परिवहन सेवाओं पर पाबंदी जारी रहेगी।
    -रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक लोगों की आवाजाही पर पाबंदी रहेगी।