सर्द हवाओं से कांप रहा पूरा उत्तर भारत, चुरू में बर्फ बनी ओस की बूंदें, दिल्ली में बारिश के आसार

    278
    Weather Update Today

    पूरा उत्तर पश्चिम भारत शीतलहर की चपेट में है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अपने पूर्वानुमान में बताया है कि अगले दो दिनों तक गंभीर शीत लहर की स्थिति जारी रहेगी और फिर धीरे-धीरे तापमान में वृद्धि होगी. दिल्ली में सोमवार की रात सबसे सर्द रात रही और मौसम पूर्वानुमान में बताया गया है कि आज का न्यूनतम तापमान 4 डिग्री रह सकता है. राजस्थान के कई इलाकों में जहां पारा शून्य से नीचे चला गया है तो यूपी में भी ठंडी हवाओं ने सिहरन बढ़ा दी है. वहीं, पंजाब और हरियाणा भी सर्दी से ठिठुर रहे हैं. बिहार में भी ठंडी हवाओं की वजह से न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है.

    दिल्ली में जारी रहेगा शीतलहर का प्रकोप

    दिल्ली में आज भी शीतलहर का प्रकोप जारी रहेगा, ठंडी हवाओं से ठिठुरन बढ़ेगी. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के पूर्वानुमान के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ यानी वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण मंगलवार रात से सर्द उत्तर-पश्चिमी हवाओं के मंद होने से न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होगी. राष्ट्रीय राजधानी में आज (मंगलवार) यानी 21 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रह सकता है.

    पंजाब हरियाणा में छाया रहेगा घना कोहरा

    आज से 25 दिसंबर तक पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में और 24 और 25 दिसंबर को पश्चिमी राजस्थान में घना कोहरा छाया रहेगा. स्काईमेट वेदर के मुताबिक पश्चिमी हिमाचल क्षेत्र की तरफ एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है, इसकी वजह से दिल्ली और आसपास के इलाकों में मौसम बिगड़ा रहेगा. दिल्ली में 26 और 27 दिसंबर को बारिश के भी आसार हैं.

    अगले दो दिनों तक मौसम में नहीं आएगा बदलाव, बारिश-हिमपात का अलर्ट

    मौसम विभाग के मुताबिक अगले 2 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिमी भारत (राजस्थान को छोड़कर), मध्य और पूर्वी भारत और महाराष्ट्र के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव की संभावना नहीं है. उत्तर पश्चिम भारत में 3-5 डिग्री सेल्सियस और उसके बाद मध्य और पूर्वी भारत और महाराष्ट्र में 2-4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी.

    विभाग ने बताया है कि एक के बाद एक दो पश्चिमी विक्षोभों के प्रभाव से, पहली 22 से और दूसरी 24 दिसंबर से, 22- 25 दिसंबर के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में हल्की से मध्यम पृथक / बिखरी हुई वर्षा / हिमपात की संभावना है. तो वहीं पंजाब में भी हल्की बारिश की संभावना है. 21 से 24 दिसंबर के दौरान अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में गरज और बिजली के साथ हल्की से मध्यम छिटपुट / छिटपुट वर्षा होने की संभावना है तो वहीं, 22 और 23 दिसंबर को इस क्षेत्र में अलग-अलग ओलावृष्टि की भी संभावना है.

    बिहार-झारखंड में भी चल रही है शीतलहर

    बर्फीली हवाओं और शीतलहर के कारण झारखंड औऱ बिहार में भी शीतलहर चल रही है और तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है सोमवार को रांची से सटे मैकलुस्कीगंज में न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री तक पहुंच गया है.