स्व. मनोहर पर्रिकर के पुत्र उत्पल पर्रिकर ने केजरीवाल का न्योता ठुकराया, निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे पणजी सीट से

181
utpal parikar
utpal parikar

भाजपा के दिग्गज नेता व पूर्व रक्षा मंत्री स्व. मनोहर पर्रिकर के पुत्र उत्पल पर्रिकर गुरुवार को गोवा की पणजी विधानसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतर गए। नामांकन दाखिल करने के पूर्व उन्होंने पणजी के महालक्ष्मी मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की।

 
उत्पल पर्रिकर ने पिछले दिनों कहा था कि उन्होंने बहुत भारी मन से भाजपा छोड़ी है, क्योंकि उनकी बात नहीं सुनी जा रही थी। उन्होंने यह भी प्रस्ताव दिया था कि यदि भाजपा पणजी सीट से अपना प्रत्याशी बदल दे तो वह मैदान छोड़ देंगे। पर्रिकर को आप संयोजक व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपनी पार्टी में शामिल होने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन उत्पल ने उनकी पेशकश ठुकरा दी। 

उत्पल पर्रिकर को भाजपा ने टिकट नहीं दिया है। वे अपने पिता की परंपरागत पणजी सीट से चुनाव लड़ना चाहते थे। भाजपा द्वारा उनकी मांग खारिज करने के बाद आप प्रमुख केजरीवाल ने उन्हें न्योता दिया था। उधर, गोवा भाजपा के नेता व प्रभारी सीटी रवि ने कहा है कि स्व. मनोहर पर्रिकर चाहते थे कि भाजपा राज्य की सत्ता में आए, इसलिए उनके बेटे उत्पल को अपने पिता के सपने को पूरा करना चाहिए। रवि ने यह भी कह कि भाजपा गोवा के पूर्व सीएम पर्रिकर की विरासत को आगे बढ़ा रही है। ऐसे में उत्पल पर्रिकर को पार्टी में बने रहना चाहिए। 
गोवा विधानसभा चुनाव 2022 के तहत राज्य की 40 सीटों पर एक साथ 14 फरवरी को वोट पड़ेंगे। नतीजे पांच राज्यों के चुनाव के बाद 10 मार्च को होने वाली मतगणना के बाद आएंगे।