”धर्म का राजनीति के लिए इस्तेमाल लोकतंत्र के लिए घातक”- मायावती..

773
mayawati
mayawati

यूपी नगर निकाय चुनाव में करारी हार पाने का सामना बाद आगामी चुनाव में बेहतर प्रदर्शन के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती ने गुरूवार को पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है। उससे पहले बुधवार को मायावती ने चुनाव में हो रही धांधली का दावा करते हुए ट्वीट में लिखा है कि, ”धर्म का राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस्तेमाल देश के लोकतंत्र के लिए घातक है। यूपी में सत्ताधारी पार्टी द्वारा जनविरोधी नीतियों, गलत कार्यकलापों आदि कमियों का चुनाव पर प्रभाव कम करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग, इनका द्वेषपूर्ण, दमनकारी व्यवहार एवं धर्म का राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस्तेमाल अति-गंभीर व अति-चिन्ताजनक है। जो कि लोकतंत्र के लिए घातक है।”

इसके आगे एक ट्वीट में मायावती ने लिखा है कि, ”इन घोर जनविरोधी चुनौतियों का डटकर मुकाबला करने हेतु ठोस रणनीति बनाकर उसके हिसाब से आगे खासकर लोकसभा आम चुनाव के लिए अभी से ही तैयारी में जुट जाने के लिए यूपी स्टेट के सभी छोटे-बड़े पदाधिकारियों, मण्डल व ज़िला अध्यक्षों आदि की लखनऊ में कल विशेष बैठक है।”