टीकाकरण के क्षेत्र में बड़ी सफलता- FDA ने मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन के बूस्टर डोज को दी मंजूरी, ‘मिक्स एंड मैच’ शॉट भी ले सकते हैं लोग

251

टीकाकरण के क्षेत्र में वैज्ञानिकों को एक और बड़ी सफलता मिली है। दरअसल, अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) ने बुधवार को मॉडर्ना इंक(Moderna) और जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson and johnson) कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज को मान्यता दे दी। एफडीए के अनुसार इस बूस्टर डोज को तीसरी खुराक के रूप में लेना होगा। इसके अलावा एफडीए ने  मिक्स-एंड-मैच बूस्टर डोज को भी मंजूरी दे दी है। यह बूस्टर डोज किसी भी टीके की पहली खुराक के बाद दी जा सकेगी।

मिक्स एंड मैच के परीक्षण में एंटीबॉडी का स्तर 76 गुना पाया गया
विशेषज्ञों ने बताया कि मिक्स एंड मैच के परीक्षण के दौरान जिन लोगों ने जॉनसन एंड जॉनसन की सिंगल डोज वाली वैक्सीन ली थी और उन्हें बूस्टर डोज के रूप में मॉडर्ना की वैक्सीन लगाई गई थी, ऐसे लोगों के शरीर में 15 दिन के अंदर एंटीबॉडी का स्तर 76 गुना बढ़ गया। जबकि जॉनसन एंड जॉनसन को बूस्टर डोज के रूप में लेने वालों में एंडीबॉडी मात्र चार गुना ही बढ़ी है।

डब्ल्यूएचओ ने उठाए सवाल
हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का कहना है कि भले ही मिक्स-एंड-मैच वैक्सीनेशन के परिणाम आशाजनक दिखाई दे रहे हों, लेकिन बड़े स्तर पर इसे लागू करने के लिए इसकी प्रभावशीलता की जांच के लिए और भी अध्ययन की जरूरत है।

मॉडर्ना के टीके मैसेंजर आरएनए पर आधारित
अध्ययन के अनुसार मॉडर्ना के टीके मैसेंजर आरएनए पर आधारित हैं जबकि जॉनसन और जॉनसन के टीके वायरल वेक्टर तकनीक का उपयोग करते हैं। वहीं इस दावे के बाद अब अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारी इस सप्ताह के अंत में मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन के टीकों के बूस्टर शॉट के गुणों पर चर्चा करेंगे।