यूपी में डेढ़ साल बाद कक्षा 6 से लेकर आठवीं तक के स्कूल भी आज से खुले

222
up school reopen

उत्तर प्रदेश में करीब चार महीने बाद आज से छात्रों की 50 फीसदी उपस्थिति के साथ कक्षा 6 से लेकर आठवीं तक के स्कूल खुल गए। हालांकि स्कूलों में उपस्थिति कम दिखाई दी। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराया जा रहा है। थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन के बाद ही छात्रों को स्कूल में प्रवेश दिया जा रहा है। राजधानी लखनऊ में बच्चों का तिलक लगाकर स्वागत किया गया। 

राजधानी लखनऊ के एल्डिको उद्यान पनियार मोंटेसरी स्कूल में कक्षा 6 से लेकर 8 तक के 8 बच्चे आए। स्कूल रूम में प्रवेश से पहले उनके शरीर को सैनिटाइज करने के लिए मशीन लगाई गई। वहीं हाथों को धोने के बाद थर्मल स्क्रीनिंग के बाद क्लास रूम में प्रवेश दिया गया। लखनऊ के इंदिरा नगर स्थित इरम पब्लिक स्कूल में छात्रों का तिलक लगाकर स्वागत किया गया। उच्च प्राथमिक विद्यालय आलमबाग में छात्रों की उपस्थिति कम रही। बेसिक विद्यालय औरंगाबाद में 7 बच्चे ही स्कूल पहुंचे। 

गोरखपुर सहित पूरे उत्तर प्रदेश में एक बार फिर स्कूलों में रौनक लौट आई है। यहां कोरोना महामारी के चलते 25 मार्च 2020 से बंद चल रही कक्षा छठवीं से आठवीं के विद्यार्थियों की पढ़ाई एक बार फिर मंगलवार से कोविड प्रोटोकॉल के बीच ऑफलाइन मोड में शुरू हो गई है। इसे लेकर प्राइवेट और सरकारी स्कूलों में तैयारियां सोमवार को ही पूरी कर ली गईं थीं। मगर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर सार्वजनिक अवकाश के चलते सोमवार को स्कूल बंद रहे। मंगलवार से स्कूल एक बार फिर गुलजार हो गया है।

कानपुर देहात में लंबे समय के बाद फिर से उच्च प्राथमिक स्कूलों में कक्षाओं का संचालन मंगलवार से किया गया। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के बाद छात्रों को स्कूल में प्रवेश दिया गया। 

फिरोजाबाद के टूंडला में मंगलवार को कक्षा छह से आठ तक के स्कूल खुल गए। कोरोना काल में अवकाश के बाद प्रथम दिन उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कहीं छात्रों की संख्या नगण्य रही तो कहीं पांच प्रतिशत ही बच्चे स्कूल पहुंचे। शिक्षकों ने पूरी तैयारी के साथ कोरोना प्रोटोकॉल के तहत बच्चों को स्कूल में प्रवेश कराया।

चित्रकूट में कोविड-19 के लंबे समय बाद फिर से शासन के दिशानिर्देशों पर कक्षा छठवीं से आठवीं तक के विद्यालय आज से खुल गए हैं, जिस पर शासन का निर्देश है कि जहां पर छात्रों की संख्या ज्यादा है वहां पर विद्यालय में पहली पाली 8:00 बजे से 11:30 बजे तक, दूसरी पाली 11:30 बजे से 2:00 बजे तक खोले जाएंगे। कोविड-19 की पहली लहर पर 38 दिन के लिए विद्यालय खोले गए थे उसके बाद दूसरी लहर आ गई थी। जिससे विद्यालय पूर्णतया बंद हो गए थे आज शासन के नियमों के अनुसार पुनः विद्यालय खोले गए, जिस पर साफ सफाई का विशेष ध्यान दिया गया। इसमें एक शपथ पत्र भी अभिभावकों द्वारा भरवाया गया जिस पर अभिभावकों की सहमति से बच्चों को विद्यालय आने की अनुमति मांगी गई।

औरैया में कोरोना की दूसरी लहर को प्रकोप के बाद बंद हुए स्कूल मंगलवार से खोल दिए गए हैं। स्कूलों का पहला दिन होने के कारण सरकारी स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति काम रही। जबकि निजी स्कूल पहले की तरह गुलजार नजर आए। स्कूल पहुंचने वाले छात्र-छात्राओं की थर्मल स्कैनिंग करके सैनिटाइजेशन किया गया। मास्क लगाने के साथ ही उन्हें कक्षाओं में प्रवेश दिया गया। इस दौरान एक सीट पर एक ही छात्र को बैठाया गया। पहले दिन अधिकांश स्कूलों में कोविड संक्रमण की जानकारी और बचाव के तरीके ही शिक्षक बताते हुए दिखे। महीनों बाद स्कूल पहुंचे बच्चे भी काफी उत्साहित नज़र आए।