यूपी में मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट, अगले 24 घंटे तक भारी बारिश की संभावना

539

बरसात के मौसम में आने वाले हथिया नक्षत्र के बारे में कहा जाता है कि इस नक्षत्र के चढ़ते ही कई दिनों तक लगातार बारिश का सिलसिला शुरू हो जाता है, लेकिन आज की तारीख में स्थितियां बदली बदली सी हैं.  हथिया नक्षत्र अक्टूबर के पहले सप्ताह में चढ़ेगा, लेकिन उससे पहले ही उसका असर दिखने लगा है. वैसे तो अभी उत्तरा नक्षत्र चल रहा है, लेकिन मौसम का मिजाज हथिया नक्षत्र जैसा हो गया है. पश्चिमी यूपी के कुछ जिलों को छोड़ दें तो प्रदेश के लगभग सभी जिलों में पिछले 24 घंटे से बारिश का सिलसिला जारी है. लखनऊ और इसके आसपास के जिलों में तो तेज बारिश हो रही है. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक यह सिलसिला अभी कई दिनों तक जारी रह सकता है. हालांकि तेज हवाओं के चलने का सिलसिला अगले 24 घंटे बाद थम सकता है.

राजधानी लखनऊ और इसके आसपास के जिलों में बुधवार रात से शुरू हुई तेज बारिश लगातार जारी है. वैसे तो बुधवार की दोपहर में भी तेज बारिश हुई थी, लेकिन जोरदार बारिश का सिलसिला बीती रात से चल रहा है. राजधानी लखनऊ में तो बुधवार की सुबह से गुरुवार की सुबह तक 107 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है. मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले 24 घंटे तक यह सिलसिला जारी रह सकता है.

विभाग की ओर से कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है इन सभी जिलों में हो रही बारिश या तो जारी रहेगी या फिर बारिश की संभावना बनी हुई है. बारिश के साथ साथ 87 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के तेज झोंके भी चलेंगे। जिन जिलों में बारिश जारी रहेगी वह जिले हैं – अमेठी, अयोध्या, बाराबंकी, बहराइच, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, हरदोई, लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली, कानपुर नगर, कानपुर देहात, औरैया, इटावा, कन्नौज, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, शाहजहांपुर, बरेली, पीलीभीत, बदायूं, कासगंज, एटा, मथुरा, अलीगढ़, बुलंदशहर और नोएडा. इन सभी जिलों के लिए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है, यानी लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है.

इसके अलावा कौशांबी, प्रयागराज, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, जौनपुर, अंबेडकर नगर, गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, महाराजगंज, संत कबीर नगर, सिद्धार्थ नगर, बलरामपुर, बस्ती, गोंडा, श्रावस्ती, फतेहपुर, बांदा, झांसी, महोबा, हमीरपुर, जालौन, इटावा, बरेली, पीलीभीत, बदायूं, कासगंज, एटा, फिरोजाबाद, आगरा, मथुरा, संभल, अमरोहा और हापुड़ में भी बारिश या तो हो रही है या अगले कुछ घंटों में होने की संभावना है.

लगातार हो रही बारिश से कई शहरों में जलजमाव की स्थिति पैदा हो गई है. इसके अलावा कुछ जिलों में कच्चे मकानों के गिरने से लोगों की जानें भी गई हैं. बारिश से तो नहीं लेकिन हवा के तेज झोंके से किसानों की भी समस्याएं बढ़ती जा रही हैं. हवा के तेज झोंके से धान की फसल गिर रही है.