यूपी चुनाव 2022: भड़काऊ भाषण मामले में मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के खिलाफ मामला दर्ज

268
abbas-ansari

बाहुबली विधायक और माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) मऊ सदर से चुनाव लड़ रहे हैं. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) ने अब्बास अंसारी को अपना प्रत्याशी बनाया है. गुरुवार देर रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अब्बास अंसारी ने राज्य में सपा सरकार बनने पर अधिकारियों को भी सबक सिखाने की बात कहते हुए भड़काऊ भाषण दिया था. अब इस मामले में कार्रवाई कर दी गई है.

गौरतलब है कि अब्बास अंसारी ने भड़काऊ और उत्तेजित भाषण देते हुए सीधे तौर पर पुलिस वालों पर निशाना साधा था. उन्होंने धमकीभरे लहजे में चेतावनी देते हुए मंच से कहा था कि अखिलेश यादव की सरकार बनने पर इन अधिकारियों को और पुलिस वालों की 6 महीने तक ट्रांसफर पोस्टिंग नहीं की जाएगी. इनसे हिसाब-किताब लिया जाएगा. उन्होंने वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए मौजूदा सरकार द्वारा की गई कार्रवाई और कथित फर्जी मुकदमों से परेशान अपने समर्थकों को आश्वस्त किया था. उन्होंने कहा, बीजेपी से इसका हिसाब लिया जाएगा. जिन्होंने मुकदमे लगाए हैं, उनकी भी जांच की जाएगी, खबर ली जाएगी.

इस मामले में संज्ञान लेते हुए पुलिस डीजीपी कार्यालय ने मऊ पुलिस को कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया है. इस मामले में अब्बास अंसारी के खिलाफ सदर कोतवाली में आचार संहित के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. एसपी सुशील घुले ने बताया कि अब्बास अंसारी के बयान पर संज्ञान लेते हुए कोतवाली में संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. जांच के लिए संबंधित रिटर्निंग अधिकारी को भी आदेश दिया गया है.