कल से शुरू हो रहीं UP बोर्ड की परीक्षाएं, 51 लाख से ज्यादा छात्र देंगे एग्जाम

464
UP board exams

कोरोना वायरस का खतरा कम होने के साथ ही उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षाओं के लिए तैयार है. कल यानी गुरुवार से यूपी में 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं एक साथ शुरू हो रही हैं. माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश की हाईस्कूल और इंटर की परीक्षा में 51 लाख 92 हजार 689 छात्र शामिल होंगे. बोर्ड की डेट शीट के मुताबिक परीक्षाएं 24 मार्च से 12 अप्रैल तक चलेंगी. एग्जाम दो शिफ्ट में होंगे. इस बार हाईस्कूल में 15 लाख 53 हजार 198 छात्र तथा 12 लाख 28 हजार 456 छात्राएं परीक्षा देंगी. इंटरमीडिएट में 13 लाख 24 हजार 200 छात्र तथा 10 लाख 86 हजार 835 छात्राएं इम्तिहान देंगी. कुल 51,92,689 परीक्षार्थी इस बार की बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होंगे.

संख्या के लिहाज से उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षाओं को दुनिया की सबसे बड़े पैमाने पर आयोजित की जाने वाली परीक्षा माना जाता है. बोर्ड परीक्षाएं कराने के लिए कुल 8373 केंद्र बनाए गए हैं. इनमें 497 राज्य की 3589 अशासकीय सहायता प्राप्त तथा 4307 वित्तविहीन विद्यालय शामिल हैं. बोर्ड ने 861 परीक्षा केंद्रों को संवेदनशील तथा 254 केंद्रों को अति संवेदनशील की श्रेणी में रखा है. परीक्षा की व्यवस्थाओं पर नजर रखने के लिए एक नियंत्रण कक्ष बनाया गया है. इसका उद्घाटन बुधवार को प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र ने किया. मिश्र ने बताया, ‘इस नियंत्रण कक्ष के माध्यम से सभी परीक्षा केंद्रों पर लगाए गए कुल 2,97,124 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज सीधे प्राप्त होगी और पूरे प्रदेश में बनाए गए स्ट्रांग रूम के जरिए वरिष्ठ अधिकारियों की निगरानी में एक टीम संपूर्ण परीक्षा पर बारीकी से नजर रखेगी.’ इसके अलावा, जिला स्तर पर 75 तथा विद्यालय स्तर पर 8373 नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं. परीक्षा पर नजर रखने के लिए 8373 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं.

सीसीटीवी से रखी जाएगी नजर
अधिकारियों के मुताबिक पूरे राज्य में सभी सेंटर्स पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. इन कैमरों को मॉनिटर करने के लिए एक कंट्रोल रूम बनाया गया है. नकल को रोकने के लिए ये इंतजाम किए गए हैं. बुधवार को राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम का उद्घाटन किया गया है. जानकारी मिली है कि पूरे यूपी में 2,97,124 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. इन कैमरों पर निगरानी के लिए कई कमांड सेंटर के अलावा 75 जिला स्तरीय सेंटर भी बनाए गए हैं. कंट्रोल रूम का उद्घाटन यूपी की चीफ सेक्रेटरी दुर्गा शंकर मिश्रा ने किया.

दो शिफ्ट में होंगी परीक्षाएं
यूपी बोर्ड की परीक्षाएं दो शिफ्ट में होंगी. सुबह की शिफ्ट सुबह 8 बजे और 11.15 बजे से शुरू होगी जबकि शाम की शिफ्ट में परीक्षा दोपहर 2 बजे से 5.15 बजे तक चलेंगी. राज्य सरकार पहले ही चेतावनी दे चुकी है कि परीक्षा में किसी भी तरह नकल करने या गलत तरीके से प्रभावित करने पर नेशनल सिक्योरिटी एक्ट (NSA) एक्ट के तहत कार्रवाई होगी. इस साल 10वीं की परीक्षा में कुल 27,81,654 छात्र परीक्षा देंगे. इनमें 12,28,456 छात्राएं हैं और 15,53,198 छात्र हैं. इसी तरह 24,11,035 छात्र इस साल 12वीं की परीक्षाएं दे रहे हैं. इनमें 10,86,835 छात्राएं और 13,24,200 छात्र शामिल हैं. पूरे राज्य में 8,373 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. इनमें से 6,398 ग्रामीण क्षेत्र और 1975 शहरी क्षेत्र में हैं. राज्य सरकार ने 861 परीक्षा केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया है जबकि 254 सेंटर अति संवेदनशील की श्रेणी में आते हैं.