केंद्रीय मंत्री पुरी ने कहा- वैक्सीन की दोनों डोज लेने वाले हवाई यात्रियों को आरटी-पीसीआर जांच से मिल सकती है छूट

    346

    कोरोना महामारी का प्रभाव कम होने साथ ही केंद्र सरकार घरेलू उड़ानों में यात्रियों की सुविधा के लिए आरटी-पीसीआर रिपोर्ट की अनिवार्यता खत्म करने पर विचार कर रही है।

    पुरी ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग सहित कई मंत्रालयों की संयुक्त टीम और विभिन्न हितधारक इस मसले पर विचार-विमर्श कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह फैसला अकेले नागर विमानन मंत्रालय नहीं ले सकता। सरकार इस पर नोडल एजेंसी से भी मंत्रणा कर रही है, ताकि विमान यात्रियों को सहूलियत हो। दरअसल कुछ राज्यों में कोरोना के सक्रिय मामले अब भी ज्यादा हैं और इसलिए घरेलू विमान यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य किया गया है।

    महाराष्ट्र के घरेलू हवाई यात्रियों को आरटी-पीसीआर टेस्ट की जरूरत नहीं,
    बीएमसी ने एक आदेश में कहा कि अब से मुंबई एयरपोर्ट अथॉरिटी और एयरलाइंस यात्रियों को आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने के लिए नहीं कह सकते। बीएमसी ने कहा कि ये आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया जा रहा है। बता दें कि आरटी-पीसीआर के जरिए किसी भी शख्स के कोरोना पॉजिटिव होने का पता चलता है।

    बीएमसी की ओर से जारी नए दिशा-निर्देशों के मुताबिक, सभी घरेलू यात्री, जो महाराष्ट्र के किसी स्थान से हवाई यात्रा के जरिए मुंबई आ रहे हैं, उन्हें आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना अनिवार्य नहीं है। दिशा-निर्देशों में कहा गया कि सभी घरेलू हवाई यात्रियों को मुंबई से महाराष्ट्र के किसी भी कोने में हवाई यात्रा करने पर आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना जरूरी नहीं है। 

    बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के दैनिक मामले कम हो रहे हैं और इसके बावजूद सरकार ने वहां अभी भी सख्ती बनाई हुई है। इससे पहले मई महीने में यह आदेश आया था कि सभी घरेलू हवाई यात्रियों को मुंबई से हवाई यात्रा के जरिए महाराष्ट्र के किसी दूसरे स्थान पर जाने के लिए आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य था।