अमेरिका में जारी है सत्ता पर संग्राम: व्हाइट हाउस छोड़ने के लिए राजी हुए डोनाल्ड ट्रंप, सामने रखी ये शर्त

424

अमेरिका के निर्वतमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि तीन नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव के बाद ‘इलेक्टोरल कॉलेज’ के जो बाइडन को विजेता घोषित करने पर ही वह व्हाइट हाउस छोडेंगे। इसके साथ ही उन्होंने एक बार फिर चुनाव में धोखाधड़ी के अपने बेबुनियाद दावे दोहराए।

ट्रंप ने ‘थैंक्सगिविंग डे’ पर अपने भाषण में यह भी कहा कि अगर बाइडन को विजेता घोषित किया जाता है तो यह ‘इलेक्टोरल कॉलेज’ की एक बड़ी गलती होगी। ट्रंप से बृहस्पतिवार को व्हाइट हाउस में पत्रकारों ने पूछा था कि ‘इलेक्टोरल कॉलेज’ के बाइडन को विजेता घोषित करने पर वह क्या करेंगे? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि इसे स्वीकार करना बेहद मुश्किल होगा। व्हाइट हाउस छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर, मैं छोड़ूंगा और यह आपको भी पता है। व्हाइट हाउस में अपने आखिरी ‘थैंक्सगिविंग’ की योजनाओं के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘आप नहीं बता सकते कि क्या पहला है, क्या आखिरी।’

उन्होंने कहा कि यह दूसरे कार्यकाल का पहला (थैंक्सगिविंग) भी हो सकता है। साथ ही ट्रंप ने जॉर्जिया में दो सीनेट सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए रैली करने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि वह जॉर्जिया में रिपब्लिकन उम्मीदवार सीनेटर डेविड पेर्ड्यु और सीनेटर केली लोफ्ल के लिए अपने हजारों समर्थकों के साथ शनिवार को रैली करेंगे।

यहां पांच जनवरी को होने वाले उपचुनाव के बाद ही स्पष्ट होगा कि जॉर्जिया किस पार्टी के हिस्से में जाता है। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बाइडन जीत दर्ज कर चुके हैं, लेकिन ट्रंप ने अभी तक अपनी हार स्वीकार नहीं की है और चुनावी नतीजों के खिलाफ कई मुकदमे भी दायर कर रखे हैं।