तालिबान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पंजशीर पर फतेह का किया एलान, बोला – ‘बागियों को बख्शेंगे नहीं’

    419

    तालिबान के प्रवक्ता ने एक बार फिर पंजशीर में कब्जे का दावा किया है. तालिबान प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने कहा है कि हमने पंजशीर में अपने दुश्मनों को ढेर कर दिया है और पंजशीर हमारी फोर्स के कब्जे में है. जबीउल्ला मुजाहिद ने कहा कि पंजशीर के साथ किसी तरह का भेदभाव नहीं होगा. उन्होंने हमने चाहा था कि यह मुद्दा बातचीत के जरिए सुलझे लेकिन ऐसा नहीं हुआ. इसके बाद हमारी फोर्स ने हमला किया और कब्जा किया गया है.

    इससे पहले तालिबान प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने कहा था कि कब्जे का दावा किया था जिसे NRF ने खारिज कर दिया था. इस बीच नॉर्दन अलायंस के लीडर अहमद मसूद ने ट्वीट कहा है कि वे सुरक्षित हैं और चिंता करने की कोई बात नहीं है.

    पंजशीर की लड़ाई में विद्रोही नेता अहमद मसूद के कई कमांडर भी मारे गए हैं. जिसमें एनआरएफ के प्रवक्ता फहीम दश्ती और टॉप कमांडर सालेह मोहम्मद रेगिस्तानी भी शामिल हैं. रेगिस्तानी अहमद शाह मसूद सीनियर के करीबी थे और उन्हें गोरिल्ला लड़ाई का माहिर माना जाता था.

    इसके साथ ही रेसिस्टेंस फ्रंट के प्रवक्ता फहीम दश्ती और अहमद शाह मसूद के भतीजे जनरल अब्दुल वुदूद भी शहीद हो गए. फहीम दश्ती की मौत रेसिस्टेंट फ्रंट के लिए बड़ा झटका है क्योंकि प्रवक्ता होने के साथ साथ वो अहमद मसूद के काफी करीबी थे. अहमद मसूद और उसके पिता अहमद शाह मसूद के बेहद करीबी रहे फहीद दश्ती की मौत के बाद पंजशीर में एक तरफ शांति की आवाज उठ रही है वहीं कुछ ऐसे नेता भी हैं जो खून के बदले की बात कर रहे हैं.