PAK vs SA, 1st Test : 13 साल के बाद पाकिस्तान में टेस्ट क्रिकेट खेलने उतरी साउथ अफ्रीकाई टीम, ये है प्लेइंग इलेवन

225

पाकिस्तान क्रिकेट टीम कराची के नेशनल स्टेडियम में साउथ अफ्रीका के साथ दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेलेगी। पाकिस्तान 13 साल बाद अपने घर में साउथ अफ्रीका की मेजबानी करेगी। 2009 में श्रीलंका की टीम के बस पर हुए आतंकी हमले के बाद से पाकिस्तान 2015 तक कोई भी अंतर्राष्ट्रीय सीरीज की मेजबानी नहीं कर सका था। उस घटना के बाद पिछले साल श्रीलंका की टीम पहली बार पाकिस्तान में खेलने गई थी।

श्रीलंका ने दिसंबर 2019 में दो मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए पाकिस्तान का दौरा किया था। इसके बाद बांग्लादेश की टीम फरवरी में पाकिस्तान में एक टेस्ट खेली थी।

बाबर आजम बतौर कप्तान अपने घर में पहली बार कोई सीरीज में खेलेंगे। बाजम को न्यूजीलैंड दौरे पर भी टीम का कप्तान बनाया गया था, लेकिन अंगूठे में चोट के कारण वह नहीं खेल पाए थे।

आजम ने साउथ अफ्रीका के साथ टेस्ट मैच से पहले कहा, “यह गर्व की बात है कि मुझे अपने देश में एक कप्तान के रूप में डेब्यू करना है। यदि आप तुलना करते हैं, तो दोनों (न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका) अच्छी टीम हैं। आप इसे किसी भी समय हल्के में नहीं ले सकते, वे (साउथ अफ्रीका) एक शीर्ष टीम हैं। लेकिन हमारे पास अपनी ताकत भी है। परिस्थितियां हमारे लिए अनुकूल हैं और खिलाड़ी यहां खेले हैं। तो वे उस परिस्थितियों से अच्छी तरह से अवगत होंगे।”

पाकिस्तान का साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में बेहद खराब रिकॉर्ड रहा है। दोनों टीमों ने अब तक 26 टेस्ट खेले हैं, जिसमें से पाकिस्तान केवल चार ही जीत पाया है जबकि साउथ अफ्रीका ने 15 जीते हैं। दोनों के बीच सात मैच ड्रॉ रहा है।

आजम ने कहा, “हमें अतीत के बारे में नहीं सोचना चाहिए। हमें इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि हमारे सामने क्या है। यह एक तथ्य है कि हमारे पास उनके खिलाफ अच्छा रिकॉर्ड नहीं है, लेकिन हमने अच्छी तैयारी की है और हम इस बार उनके खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ देने की उम्मीद करते हैं।”