RBI गवर्नर का बयान निवेशकों को खूब रास आया, सेंसेक्स और निफ़्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद

445

भारतीय रिजर्व बैंक की नीतिगत दरों को लेकर की गई घोषणाओं से शेयर बाजारों में शुक्रवार को जबरदस्त तेजी देखने को मिली। सप्ताह के आखिरी कारोबारी सत्र में सेंसेक्स 446.90 अंक यानी एक फीसद के उछाल के साथ 45,079.55 अंक के स्तर पर बंद हुआ। दूसरी ओर निफ़्टी 124.65 अंक या 0.95% की तेजी के साथ 13,258.55 अंक के स्तर पर बंद हुआ। भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की बैठक के निष्कर्ष के सार्वजनिक होने से पहले सेंसेक्स और निफ़्टी पर उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा था।

हालांकि, आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास के बयान के बाद बाजार में लगातार तेजी देखने को मिली और सेंसेक्स ने पहली बार 45,000 अंक के स्तर को छुआ। इससे पहले आरबीआई गवर्नर ने आज ऐलान किया कि केंद्रीय बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने सर्वसम्मति से लगातार तीसरी द्विमासिक बैठक में रेपो रेट को चार फीसद पर अपरिवर्तित रखने का फैसला किया है। साथ ही नीतिगत रुख को उदार बनाए रखा गया है।

इसके अलावा जीडीपी वृद्धि दर को लेकर भी आरबीआई ने अपने पूर्व के अनुमान में सुधार किया है। केंद्रीय बैंक के मुताबिक चालू वित्त वर्ष में जीडीपी वृद्धि दर (-) 7.5 फीसद पर रह सकती है।

सेंसेक्स पर आईसीआईसीआई बैंक के शेयरों में सबसे ज्यादा 4.20 फीसद की तेजी देखने को मिली। अल्ट्राटेक सीमेंट में 4.10 फीसद की तेजी देखने को मिली। इनके अलावा सन फार्मा, भारती एयरटेल, हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड में भी तेजी देखने को मिली।

इनके अलावा भारतीय स्टेट बैंक, लार्सन एंड टुब्रो, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, नेस्ले इंडिया, टाइटन, कोटक महिंद्रा बैंक, ओएनजीसी, एशियन पेंट, आईटीसी, बजाज ऑटो, टेक महिंद्रा, मारुति, इन्फोसिस, टीसीएस, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एचडीएफसी बैंक, पावरग्रिड, टाटा स्टील और बजाज फाइनेंस के शेयर हरे निशान के साथ बंद हुए।

दूसरी ओर रिलायंस के शेयरों में 0.86 फीसद की गिरावट देखने को मिली। बजाज फिनजर्व, एचसीएल टेक, एचडीएफसी और एनटीपीसी के शेयर भी लाल निशान के साथ बंद हुए।