बढ़त के साथ बंद शेयर बाजार, सेंसेक्स 182 अंक की तेजी वहीं निफ़्टी में भी 37.20 अंक की तेज़ी बरक़रार, सरकारी बैंकों के शेयरों में भारी उछाल

358

विदेशी कंपनियों की ओर से लगातार जारी निवेश के बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस और इन्फोसिस जैसी प्रमुख कंपनियों के शेयरों में तेजी से लगातार चौथे सत्र में सेंसेक्स में बढ़त देखने को मिली। मंगलवार को सेंसेक्स 182 अंक की तेजी के साथ एक बार फिर रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ। दिन के कारोबार के दौरान 45,742.23 अंक के स्तर को छूने के बाद BSE सेंसेक्स 181.54 अंक यानी 0.40 फीसद चढ़कर 45,608.51 अंक के स्तर पर बंद हुआ। NSE निफ़्टी 37.20 अंक या 0.28 फीसद की तेजी के साथ 13,393 अंक के स्तर पर बंद हुआ। सप्ताह के दूसरे कारोबारी सत्र में पीएसयू बैंकों का प्रदर्शन अच्छा रहा और सेक्टोरल इंडेक्स की बात की जाए तो निफ्टी पर पीएसयू बैंक इंडेक्स सात फीसद के उछाल के साथ बंद हुआ। वहीं, धातु और फार्मा इंडेक्स में एक-एक फीसद तक की गिरावट देखने को मिली।

सेंसेक्स पर अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयरों में सबसे ज्यादा 3.15 फीसद की बढ़त देखने को मिली। वहीं, TCS के शेयरों में 2.21 फीसद, रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 1.82 फीसद, एचसीएल टेक के शेयरों में 1.06 फीसद, इन्फोसिस के शेयरों में 0.86 फीसद, एसबीआई के शेयरों में 0.83 फीसद, कोटक बैंक के शेयरों में 0.73 फीसद, बजाज ऑटो के शेयरों में 0.49 फीसद, महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयरों में 0.30 फीसद, एचडीएफसी बैंक के शेयरों में 0.30 फीसद, मारुति के शेयरों में 0.29 फीसद, एचडीएफसी के शेयरों में 0.29 फीसद, टाइटन के शेयरों में 0.28 फीसद, एक्सिस बैंक के शेयरों में 0.23 फीसद की तेजी दर्ज की गई। इनके अलावा हिन्दुस्तान यूनिलीवर और लार्सन एंड टुब्रो के शेयर भी हरे निशान के साथ बंद हुए।

सेंसेक्स पर सन फार्मा, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, टेक महिंद्रा, ओएनजीसी, एशियन पेंट, भारती एयरटेल, बजाज फिनजर्व, पावरग्रिड, बजाज फाइनेंस, आईसीआईसीआई बैंक, टाटा स्टील, आईटीसी और नेस्ले इंडिया के शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए।

रिलायंस सिक्योरिटीज के प्रमुख (स्ट्रेटेजी) विनोद मोदी ने कहा, ”घरेलू बाजार लगातार बढ़त के साथ कमजोर वैश्विक बाजारों को पीछे छोड़ रहे हैं। फाइनेंशियल (मुख्य रूप से पीएसयू बैंकों की बदौलत), आईटी कंपनियों और रिलायंस इंडस्ट्रीज में लिवाली से मंगलवार को बाजार को मजबूती मिली। वहीं, फार्मा और धातु कंपनियों के शेयरों में मुनाफावसूली देखने को मिला।”

शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को 3,792.06 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की लिवाली की और इस तरह वे शुद्ध आधार पर लिवाल बने रहे।

अन्य एशियाई बाजारों की बात करें तो शंघाई, हांगकांग, सिओल और टोक्यो में बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। यूरोप में शुरुआती कारोबार में शेयर बाजारों में गिरावट देखने को मिल रही है।