Ukraine पर Nuclear हमला कर सकता है Russia, राष्ट्रपति पुतिन ने अपने दस्ते को किया अलर्ट

    327
    Russian president Putin
    Russian president Putin

    यूक्रेन पर रूस का लगातार आक्रमण जारी है. इस बीच एपी की रिपोर्ट के मुताबिक रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूसी परमाणु निवारण फोर्स को अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है. विश्व इतिहास में पिछले कई दशकों से ऐसा नहीं हुआ है, जब किसी देश ने खुले तौर पर परमाणु हमले की धमकी दी हो, लेकिन यूक्रेन पर हमला करने वाले व्लादिमीर पुतिन ने ऐसा किया है. यूक्रेन पर हमले से पहले ही अपने भाषण में व्लादिमीर पुतिन ने दुनिया के सभी देशों को धमकी दी थी कि यदि उन्होंने दखल देने का प्रयास किया तो फिर उनके पास हथियार भी हैं. पुतिन के इरादों से साफ है कि यूक्रेन में चल रहा युद्ध परमाणु जंग में बदल सकता है.

    यूक्रेन से युद्ध से पहले राष्ट्रपति पुतिन ने अपने भाषण में कहा था कि आज का रूस दुनिया की सबसे बड़ी परमाणु ताकतों में से एक है. रूस के पास बड़े पैमाने पर हथियार हैं. ऐसे में किसी को भी इस बात का संदेह नहीं रखना चाहिए कि वे दखल देंगे और उनकी हार नहीं होगी. कोई भी हमारे देश पर हमला करता है तो फिर उसे परिणाम भुगतने होंगे.  साल 1945 में दूसरे विश्व युद्ध के बाद से अब तक किसी भी देश ने परमाणु हथियारों का इस्तेमाल नहीं किया है. उस समय अमेरिकी राष्ट्रपति हैरी ट्रूमैन ने जापान में परमाणु हथियार गिराए थे, जिसके कारण बड़ी संख्या में लोग मारे गए थे. परमाणु हमले में लगभग 2 लाख से अधिक लोगों की मौत हो गई थी.

    रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के मुद्दे पर किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं.  उन्होंने एक तरह से यूक्रेन की मदद करने की कोशिश करने वाले किसी भी पश्चिमी देश को परमाणु हमला तक भुगतने तक की चेतावनी दे डाली है. शुक्रवार को नाटो के 30 देशों ने चर्चा की है. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने संकेत दिया है कि यदि किसी भी देश ने उसे निशाना बनाने की कोशिश की तो ऐसा अंजाम होगा, जो इतिहास में किसी का नहीं हुआ होगा.

    वहीं यूरोपीय विश्लेषकों का भी मानना है कि अगर रूसी सेना पर यूक्रेन के बाहर की ताकतों की ओर से हमला किया जाता है, तो रूस परमाणु हथियारों की तैनाती कर सकता है. रूस के राष्ट्रपति की बातों में पश्चिमी देशों में रूस की परमाणु शक्ति को लेकर सख्त चेतावनी थी. उन्होंने जिस भाषण के जरिए यूक्रेन में युद्ध का ऐलान किया है, उसमें कहा- ‘किसी को कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि हमारे देश पर सीधा हमला किसी भी संभावित हमलावर के लिए विनाश और भयानक परिणाम का कारण बनेगा.’