आज का मुकाबले में चेन्नई को हराकर प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली टीम बन सकती है बैंगलोर

823

आईपीएल 2020 के सुपर संडे का आज पहला मुकाबला विराट कोहली की अगुवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स के बीच दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाना है। जिस तरह की अनपेक्षित चीजें 2020 में हो रही है वैसा ही हाल कुछ इस साल की आईपीएल प्वॉइंट्स टेबल का भी है। आरसीबी जहां प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करने के लिए दो अंक तलाश रही है, वहीं सीएसके की टीम लगभग-लगभग इस टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी है। बैंगलोर की टीम इस साल पहले से संतुलित और मजबूत दिखाई दे रही है, इसी वजह से उनके पास 2009 के बाद सीएसके को एक सीजन में दो बार मात देने के सुनहरा मौका है। इसी मैदान पर जब पिछली बार यह दोनों टीमें भिड़ी थी तो आरसीबी विराट कोहली के नाबाद 90 रनों के दम पर सीएसके को 37 रनों से मात देने में सफल रही थी।

दोनों टीमों का आकलन
सबसे पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की बात करें तो वह अपने पिछले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को बुरी तरह मात देकर यहां पहुंची है। आरसीबी ने पहले उन्हें 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 84 ही रन बनाने दिए, फिर इस लक्ष्य को 39 गेंदें और 8 विकेट रहते हासिल कर लिया। आरसीबी की ओर से मोहम्मद सिराड ने 8 रन देकर तीन विकेट झटके और अपने आईपीएल करियर का ड्रीम स्पेल डाला।

आरसीबी की प्लेइंग इलेवन को देकर लगता नहीं है कि उन्हें किसी बदलाव की जरूरत है और उम्मीद है कि वह चेन्नई के खिलाफ उन्हीं खिलाड़ियों के साथ उतरेगी जिसके साथ उन्होंने केकेआर के खिलाफ मैच खेला था। अगर आरसीबी को कुछ बदलाव करने ही है तो वह गुरकीरत मान की जगह टीम में शिवम दुबे या फिर पार्थिव पटेल को मौका दे सकती है।

वहीं धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपर किंग्स मुंबई इंडियंस के हाथों 10 विकेट से करारी हार झेलकर यहां पहुंची है। मुंबई की गेंदबाजी के आगे सीएसके के बल्लेबाजों की एक ना चली और टीम निर्धारित 20 ओवर में 114 ही रन बना सकी। धोनी ने इस बार टीम में रितुराज गायकवाड़ और एन जगदीशन को मौका दिया था, लेकिन दोनों खिलाड़ी अपना खाता तक नहीं खोल पाए।

पावरप्ले में सीएसके ने अपने 5 विकेट खो दिए थे जिससे साफ हो गया था कि वह यह मैच नहीं जीत सकती है, लेकिन सैम कुर्रन ने एक बार फिर टीम के लिए माहत्वपूर्ण 53 रन बनाए थे। धोनी पहले ही कह चुके हैं कि वह बाकी बचे तीन मैचों के जरिए अगले सीजन की तैयारियां करेंगे तो हो सकता है आरसीबी के खिलाफ मैच में उनके खिलाड़ी बिना प्रेशर के अच्छा परफॉर्म करें।

टीम का मध्यक्रम भी काफी कमजोर दिखाई दे रहा है। सुरेश रैना के ना रहने से रायुडू, जाधव और धोनी जैसे खिलाड़ी फेल साबित हुए हैं। जडेजा ने कई बार अंत में आकर कुछ आतिशी पारी जरूर खेली है। अगर सीएसके को आज का मैच जीतना है तो उनके बल्लेबाजों को किसी भी हालत में परफॉर्म करना होगा।

हेड टू हेड
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच अभी तक आईपीएल में 25 मुकाबले खेले गए हैं। इनमें से 15 मैच सीएसके तो 9 ही मैच आरसीबी जीतने में सफल रही है। वहीं पिछले 6 मुकाबलों की बात करें तो सीएसके ने 4 और आरसीबी ने दो ही मैच जीते हैं। हेड टू हेड मुकाबलों में सीएसके का पलड़ा भारी है, लेकिन आज आरसीबी के पास यह रिकॉर्ड बदलने का बेहतरीन मौका है।