Rinku Sharma Murder Case: क्राइम ब्रांच करेगी अब बजरंग दल के कार्यकर्ता की हत्या की जांच, इलाके में तनाव का माहौल

    590

    दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में कथित तौर पर जन्मदिन की पार्टी के दौरान हुए झगड़े के बाद 25 वर्षीय BJP कार्यकर्ता रिंकू शर्मा हत्या मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। रिंकू शर्मा की बुधवार 10 फरवरी को चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी।

    रिंकू के परिवार का आरोप है कि राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा एकत्र करने के अभियान में सक्रिय रहने के चलते रिंकू की हत्या की गई है। हालांकि, हत्याकांड को लेकर पुलिस ने किसी भी सांप्रदायिक एंगल से इनकार किया है।

    पुलिस का कहना है कि मृतक और आरोपी एक ही इलाके के रहने वाले हैं और एक दूसरे को अच्छी तरह जानते हैं। बुधवार रात जन्मदिन की पार्टी में किसी कारोबारी रंजिश के चलते झगड़ा हुआ था।

    पुलिस के मुताबिक, हत्या के मामले में पुलिस ने पांचवें आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान ताजुद्दीन (29) के रूप में हुई है जोकि पहले होम गार्ड के तौर पर कार्य करता था। इससे पहले पुलिस ने गुरुवार को चार अन्य आरोपियों जाहिद, मेहताब, दानिश और इस्लाम को गिरफ्तार कर लिया गया था। पुलिस ने कहा कि घटना की सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहा है कि आरोपी पीड़ित के घर की तरफ लाठी-डंडे लेकर जा रहे हैं।

    रिंकू शर्मा एक निजी अस्पताल में लैब टेक्निशियन के तौर पर कार्यरत था। घटना के बाद से ही इलाके में भारी तनाव बना हुआ और किसी भी अप्रिय घटना से बचाव के लिए पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

    दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी (PRO) चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि 10 फरवरी को एक इलाके के कुछ युवक जन्मदिन की पार्टी मनाने एक रेस्टोरेंट में एकत्रित हुए थे। पार्टी के दौरान एक रेस्टोरेंट को बंद किए जाने को लेकर उनमें झगड़ा हुआ था। यह एक पुराना कारोबारी मसला था। झगड़ा होने के बाद सभी अपने घरों को लौट गए। बिस्वाल ने कहा कि बाद में कुछ युवक रिंकू शर्मा के घर पहुंचे और उसे चाकू मारकर घायल कर दिया। रिंकू को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। बिस्वाल ने सांप्रदायिक एंगल के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि अब तक की जांच में जन्मदिन की पार्टी में झगड़े के बाद यह घटना होने की बात सामने आई है।