पंजाब के अमृतसर में मिला RDX, विधानसभा चुनाव से पहले थी बड़ी साजिश

323
RDX found in Punjab
RDX found in Punjab

पंजाब के गुरदासपुर में RDX मिलने के बाद अब अमृतसर के सीमांत गांव धनोए कलां में भी बड़ी मात्रा में RDX मिला है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार की सुबह बरामद हुआ यह विस्फोटक पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 के दौरान पंजाब को दहलाने के लिए इस्तेमाल किया जाना था। यह RDX गांव की मुख्य सड़क के पास ही खेत में छुपा कर रखा गया था। 

विस्फोटक की बरामदगी के बाद स्पेशल टास्क फोर्स की टीम ने पूरे गांव में सर्च अभियान शुरू कर दिया है। इसकी जानकारी मिलते ही एसएसपी राकेश कौशल सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए और भारत-पाक सीमा से कुछ ही दूरी पर स्थित यह गांव और आस-पास का पूरा इलाका पुलिस छावनी में तबदील हो गया। हथियार मिलने के बाद मौके पर एंटी बम स्कवायड को बुलाया गया है। वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है।

पंजाब में चुनाव से ठीक पहले आतंकी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। आईएसवाईएफ के आतंकी मॉड्यूल का खुलासा करने के बाद पंजाब पुलिस ने राज्य के कई स्थानों से तीन दिन में 2.5 किलो आरडीएक्स बरामद किया है। साथ ही एक डेटोनेटर, कोडेक्स तार, 5 फ्यूज, एके-47 राइफल और 12 कारतूस भी बरामद हुए हैं।

पंजाब पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) वीके भावरा ने गुरुवार को बताया कि यह बरामदगी गुरदासपुर के गांव लखनपाल के रहने वाले अमनदीप कुमार उर्फ मंत्री के इकबालिया बयान पर की है। वह पठानकोट में हाल ही में घटे ग्रेनेड हमलों की दो घटनाओं का मुख्य आरोपी है। एसएसपी एसबीएस नगर कंवरदीप कौर ने बताया कि अमनदीप के खुलासे के बाद गुरदासपुर जिले में टीमें भेजीं गईं और विस्फोटक सामग्री बरामद की गई। 

अमनदीप के अनुसार इस सामग्री का उपयोग आईईडी बनाने के लिए किया जाना था। यह खेप आईएसवाईएफ (रोडे) के स्व-घोषित चीफ लखबीर सिंह रोडे जो मौजूदा समय में पाकिस्तान में रह रहा है, ने अमनदीप को अपने साथी और इस आतंकवादी गुट के संचालक सुखप्रीत सिंह उर्फ सुख निवासी दीनानगर की मदद से मुहैया करवाई थी।

अमनदीप उर्फ मंत्री गत सोमवार को एसबीएस नगर पुलिस द्वारा गिरफ्तार आईएसवाईएफ के छह गुर्गों में से एक है। इन आरोपियों ने पठानकोट आर्मी कैंप समेत पठानकोट में दो ग्रेनेड हमले करने की बात कबूली की है। पुलिस ने इनके कब्जे से छह हैंड ग्रेनेड (86 पी), एक पिस्तौल (9 एमएम), एक राइफल (.30 बोर) के साथ कारतूस और मैगजीन भी बरामद की थी। जून-जुलाई 2021 के बाद लखबीर रोडे ने पंजाब और अन्य देशों में अपने नेटवर्क द्वारा आतंकवादी मॉड्यूलों की एक श्रंखला को चलाने में प्रमुखता के साथ काम किया है। बड़ी संख्या में आतंकवादी हार्डवेयर जिसमें आरडीएक्स, टिफिन आईईडी, आईईडी बनाने के लिए विस्फोटक सामग्री, हैंड ग्रेनेड, फायर आर्म्स और नशीले पदार्थ शामिल हैं। मुख्य तौर पर ड्रोन और सरहद पार तस्करों के अपने नेटवर्क की सहायता से अंतरराष्ट्रीय सरहद के पार भेजे गए हैं।