कोहली के लौटने के बाद रहाणे संभालेंगे कप्तानी, तीन टेस्ट मैचों में रहाणे के पास होगी टीम की कमान

188

भारतीय कप्तान विराट कोहली एडिलेड में 17 दिसंबर से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच के बाद पितृत्व अवकाश पर स्वदेश लौट जाएंगे और इसके बाद बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के बाकी बचे तीन मैचों में रहाणे टीम की अगुवाई करेंगे. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल को अजिंक्य रहाणे शानदार कप्तान लगते हैं और उन्हें उम्मीद है कि उनकी आक्रामक शैली भारतीय टीम को रास आएगी.

चैपल ने वर्चुअल बातचीत के दौरान पीटीआई से कहा, ‘मैंने उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टेस्ट (मार्च 2017 में धर्मशाला) में कप्तानी करते हुए देखा था और मुझे उनकी कप्तानी शानदार लगी थी. वह वास्तव में आक्रामक कप्तान हैं.’

चैपल ने इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उस टेस्ट मैच के दौरान रहाणे की कप्तानी के उन पहलुओं का जिक्र किया, जिन्होंने उनका ध्यान खींचा. उन्होंने कहा, ‘मुझे उनकी कप्तानी की कुछ बातें याद हैं.

ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में डेविड वॉर्नर हावी होकर खेल रहा थे. वह (अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे) कुलदीप यादव को लेकर आए और उन्होंने वॉर्नर को आउट कर दिया.’

चैपल ने कहा, ‘दूसरी बात जो मुझे याद है कि भारत छोटे लक्ष्य का पीछा कर रहा था और उसने दो विकेट गंवा दिए थे. रहाणे ने क्रीज पर कदम रखा और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों पर हावी हो गए. उन्होंने 20 से अधिक (27 गेंदों पर 38 रन) बनाए. मुझे उनका यह रवैया अच्छा लगा.’

उन्होंने कहा, ‘कप्तान के तौर पर आपके पास दो विकल्प होते हैं- एक आक्रामक रवैया अपनाना और दूसरा रक्षात्मक खेल खेलना. मेरा मानना है कि टेस्ट क्रिकेट में आक्रामक रवैया जरूरी है और रहाणे आक्रामक हैं.’