नेपाल: सरकार गठन के प्रयास तेज, राष्ट्रपति ने दावा पेश करने के लिए तीन दिन का वक्त दिया

494

प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली की सरकार के विश्वास मत हासिल नहीं कर पाने के बाद नेपाल की राष्ट्रपति बिद्यादेवी भंडारी ने नई सरकार बनाने के लिए तीन दिन का वक्त दिया है। राष्ट्रपति ने बहुमत साबित करने के लिए विभिन्न दलों को बृहस्पतिवार तक का दिया है। इस बीच, सियासी दलों के बीच सरकार गठन के प्रयास तेज हो गए हैं।

राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से सोमवार को जारी एक वक्तव्य में कहा गया कि नेपाल के संविधान के अनुच्छेद 76 (2) के तहत भंडारी ने बहुमत की सरकार का गठन करने के लिए विभिन्न दलों को आमंत्रित करने का फैसला लिया है।

हिमालयन टाइम्स की खबर के मुताबिक, बिद्यादेवी भंडारी ने सियासी दलों को तीन दिन का वक्त देते हुए बृहस्पतिवार की रात नौ बजे तक दावा पेश करने को कहा है।

बता दें कि राष्ट्रपति के निर्देश पर संसद के निचले सदन (प्रतिनिधि सभा) के आहूत विशेष सत्र में प्रधानमंत्री ओली की ओर से पेश विश्वास प्रस्ताव के समर्थन में केवल 93 मत मिले थे जबकि 124 सदस्यों ने विरोध में मत दिया।

इस दौरान कुल 232 सदस्यों ने मतदान किया जिनमें से 15 सदस्य तटस्थ रहे। नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के पुष्पकमल दहल की अगुआई वाले गुट ने कुछ समय पहले ही सरकार से समर्थन वापस लिया था।