पोप ने इजराइल और हमास के बीच जारी संघर्ष की निंदा की, कहा- ‘मैं अपील करता हूं कि इस हिंसा को जल्द से जल्द बंद किया जाए’

326
pope francis
pope francis

पोप फ्रांसिस ने इस्राइल और फलस्तीनियों के बीच ‘अस्वीकार्य’ हिंसा की कड़ी निंदा की और कहा कि खासतौर पर बच्चों की मौत ‘संकेत है कि वे भविष्य का निर्माण नहीं करना चाहते हैं बल्कि विध्वंस करना चाहते हैं। पोप फ्रांसिस ने रविवार को सेंट पीटर स्क्वॉयर की ओर खुलती खिड़की से आशीर्वाद देने के कार्यक्रम में शांति, संयम और वार्ता के रास्ते के लिए अंतरराष्ट्रीय मदद की प्रार्थना की।

उन्होंने कहा, ‘मैंने खुद से पूछा, इस नफरत और बदले से आखिर हमें क्या मिलेगा? क्या हम सच में मानते हैं कि हम अन्य को नष्ट कर शांति प्राप्त कर सकते हैं?’ पोप फ्रांसिस ने आगे कहा, ‘ईश्वर के नाम पर जिसने हम सभी इंसानों को बराबर हक, कर्तव्य और सम्मान के साथ बनाया और भाई की तरह रहने का निर्देश दिया, मैं अपील करता हूं कि इस हिंसा को जल्द से जल्द बंद किया जाए।’

दूसरी ओर, टेलीविजन पर प्रसारित अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने कहा कि इस्राइल चाहता है कि हमास को ‘बड़ी कीमत’ चुकानी पड़े। उल्लेखनीय है कि इस्राइल की ओर से रविवार को गाजा सिटी पर किए गए हवाई हमलों में तीन इमारतें नष्ट हो गईं और कम से कम 42 लोग मारे गए। इस्राइल और हमास के बीच एक सप्ताह पहले शुरू हुए संघर्ष के बाद यह सबसे भीषण हमला था।

इस्राइली सेना ने गाजा में हमास के शीर्ष नेता के घर को बनाया निशाना
इस्राइली सेना ने कहा कि उसने गाजा में हमास के एक शीर्ष नेता के घर पर हमला किया है। गाजा से इस्राइल में हवाई हमले और रॉकेट दागे जाने के करीब एक हफ्ते बाद यह हमला किया गया। सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल हिदाई जिल्बरमैन ने रविवार को इस्राइली सेना के रेडियो को बताया कि सेना ने गाजा में हमास के सबसे वरिष्ठ नेता येहियेह सिनवार के घर को निशाना बनाया है जो संभवत: वहां छिपा था। उसका मकान दक्षिण गाजा पट्टी में खान युनूस शहर में स्थित है।