धीरेन्द्र शास्त्री के बयान पर फिर गरमाई सियासत, महागठबंधन के नेताओं ने बाबा के खिलाफ खोला मोर्चा..

106

बाबा बागेश्वरधाम के पीठाधीश्वर धीरेन्द्र शास्त्री अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते है। एक बार फिर से हिन्दू राष्ट्र को लेकर दिए गए धीरेंद्र शास्त्री के बयान से बिहार की राजनीति गरमा गयी है। दरअसल , बीते रविवार को धीरेन्द्र शास्त्री फेसबुक लाइव कर रहे थे। इस दौरान एक शख्स ने उसने से सवाल करते हुए कहा, हिन्दू राष्ट्र कब बनेगा? इसका जवाब देते हुए धीरेन्द्र शास्त्री ने कहा कि, ”जिस दिन भारत के दो तिहाई सनातनी हिन्दू जग जाएंगे और अपने मत का और अपना अधिकार समझने लगेंगे, उस दिन हिन्दू राष्ट हो जाएगा।”

धर्म गुरुओं को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए

इसके आगे शास्त्री ने कहा कि, ”न तो हम राजनेता हैं और न ही किसी का समर्थन करते हैं। हिन्दू राष्ट्र हम पेपर पर नहीं, हिन्दू राष्ट्र हम हृदय में चाहते हैं ताकि हमारी संस्कृति सुरक्षित रह जाए।” धीरेंद्र शास्त्री द्वारा दिए गए इस बयान के साथ ही महागठबंधन के नेता इसका जमकर विरोध कर रहे है। उनका कहना है कि, धर्म गुरुओं को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए।

नीरज कुमार कहा कि, ”कर्नाटक में इनका प्रभाव क्यों नहीं फैला, उन्हें यह बताना चाहिए। ऐसा लग रहा है कि कर्नाटक में लोगों ने इनका आशीर्वाद ठीक से नहीं लिया। धर्मगुरुओं का काम यह नहीं है। उन्हें स्वामी विवेकानंद के बारे में पढ़ लेना चाहिए। स्वामी विवेकानंद देश के आइकॉन माने जाते हैं। अच्छा रहेगा उनके लिए। ऐसे विषय पर देश के संविधान को अधिकार दिया गया। धर्म गुरुओं को ऐसे विषयों पर बोलने का अधिकार नहीं है। पहले संसद में जाएं फिर ऐसा बयान दें।”