पीएम मोदी ने की ‘जन चौपाल’ रैली को संबोधित, कहा- ‘ये चुनाव सुरक्षा, सम्मान और समृद्धि की पहचान बनाएगा’

248
PM Modi Jan Chaupal
PM Modi Jan Chaupal

पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को जन चौपाल कार्यक्रम के माध्यम यूपी के मेरठ, गाजियाबाद,अलीगढ़, हापुड़ और नोएडा के मतदाताओं को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा कि आज मेरठ, गाजियाबाद, अलीगढ़, हापुड़ और नोएडा के सभी नागरिक भाइयों-बहनों को मुझे वर्चुअली आपको नमन करने का आपसे बात करने का मौका मिला है. पीएम मोदी ने कहा कि कल बसंत पंचमी का महत्वपूर्ण त्योहार है, मां सरस्वती के पूजन का दिन है. मैं आप सभी को बसंत पंचमी के इस पावन पर्व के लिए अग्रिम शुभकामनाएं देता हूं. उन्होंने कहा कि मेरठ एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास करने का सौभाग्य देशवासियों ने मुझे दिया था. इस बात का ये भी सबूत है कि भाजपा की सरकार जो कहती है वो करके दिखाती है. जो काम शुरू करती है उसे पूरा करके दिखाती है.

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे याद है, इस साल की शुरुआत में, मेरा पहला दौरा मेरठ का ही हुआ था. उस दिन मौसम खराब था, इसलिए मुझे सड़क मार्ग से आना पड़ा था. लेकिन मेरठ एक्सप्रेसवे की वजह से मैं एक घंटे से भी कम समय में दिल्ली से मेरठ पहुंच गया था. पीएम मोदी ने आगे कहा कि मुझे खुशी है कि UP के लोगों ने ये मन बना लिया है कि दंगाइयों, माफियाओं को पर्दे के पीछे रहकर के प्रदेश की सत्ता हथियाने नहीं देंगे.

प्रधानमंत्री मोदी जन चौपाल में कहा कि ये चुनाव सुरक्षा, सम्मान और समृद्धि की पहचान को बनाए रखने के लिए है और ये चुनाव हिस्ट्री शीटर्स को बाहर रखने के लिए है, नई हिस्ट्री बनाने के लिए है. उन्होंने कहा कि आज़ादी के बाद यूपी ने अनेक चुनाव देखे हैं, अनेक सरकारें बनती-बिगड़ती देखी हैं. लेकिन ये चुनाव सबसे अलग है. ये चुनाव यूपी में शांति के स्थायित्व के लिए है, विकास की निरंतरता के लिए है, प्रशासन में सुशासन के लिए है, यूपी के लोगों के तेज़ विकास के लिए है.

पीएम मोदी ने कहा कि 2017 में डबल इंजन की सरकार बनने के बाद गरीब के घर बनाने की स्पीड कई गुना बढ़ी है. कनेक्टिविटी के इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण की स्पीड डबल हुई है. मेट्रो कनेक्टिविटी इक्का-दुक्का शहरों से आज उत्तर प्रदेश के 10 शहरों तक पहुंच रही है. प्रधानमंत्री ने कहा कि LPG गैस कनेक्शन का दायरा जो लगभग आधी आबादी तक ही सीमित था आज वो शत प्रतिशत तक हो रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि इसी कोरोना काल में अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप जी के नाम पर विश्वविद्यालय बनना शुरू हुआ. मेरठ में मेजर ध्यानचंद जी के नाम पर खेल विश्वविद्यालय का शिलान्यास भी हो चुका है.