Panchayat Season 2 Review: फुलेरा गाँव की समस्याएं है इस सीजन का फोकस, कहानी ने अंत में दर्शको को दिया रूला

504
Panchayat 2 Review

Panchayat का दूसरा सीजन 36 घंटे पहले ही रिलीज़ कर दिया गया था. इसके दूसरे भाग को देखने के लिए दर्शक कोरोना के पहले लॉकडाउन से इंतज़ार कर रहे थे. पंचायत के पहले सीजन ने इसकी सादगी और मासूमियत को लेकर खूब वाह वाही लूटी थी. साथ ही साथ इसके मुख्य कलाकार जीतेंद्र कुमार ,नीना गुप्ता, रघुबीर यादव की जमकर तारीफ हुई.

अमेज़न प्राइम पर रिलीज़ होते ही Panchayat का जादू दर्शको के दिल-ओ-दिमाग पर चढ़ने लगा है. पहले सीजन की बात करे तो अभिषेक त्रिपाठी का किरदार जो कि जीतेंद्र कुमार ने निभाया था उस पर फोकस था. लेकिन इस बार के सीजन का हीरो फुलेरा गाँव हैं. गाँव से जुडी समस्याएं, गाँव के लोग इस सीजन की स्टोरी में उभर कर सामने आते हैं .

इस सीजन की शुरुआत वहीँ से होती है जहाँ से पहला सीजन ख़त्म होता है यानी पानी की टंकी से. दर्शको की अपेक्षा थी कि इस बार अभिषेक और रिंकी(पूजा सिंह) की लव स्टोरी दिखाई जायेगी पर ऐसा हुआ नहीं. धीरे-धीरे ही सही लेखको ने दोनों के बीच नजदीकियां तो बढ़ाई है.

अन्य किरदारों की तो मंजू देवी (नीना गुप्ता) का किरदार जो की असली प्रधान का है वो इस सीजन में काम देखने को और सीखने को आतुर रहती हैं वहीँ इनके पति यानी ब्रिज भूषण दुबे (रघुबीर यादव) जो की प्रधान पति है उन्होंने भी शो में दमदार एक्टिंग. सह कलाकार में ऑफिस सहायक के रोल में विकास (चंदन रॉय)और उप प्रधान के रोल में प्रह्लाद बने फैसल मलिक ने भी ज़ोरदार एक्टिंग की है .इस सीजन में आठ एपिसोड है और हर एपिसोड आपको कुछ गुदगुदाएगा तो कहीं सोचने पर मजबूर कर देगा और शो के अंत तक आते- आते आपकी आँखों को नाम भी कर जाएगा .

Panchayat 2 के बारे में अन्य जानकारी

कलाकार: रघुवीर यादव , नीना गुप्ता , जितेंद्र कुमार , चंदन रॉय , फैसल मलिक , पूजा झा और पूजा सिंह
लेखक: चंदन कुमार
निर्देशक: दीपक कुमार मिश्र
निर्माता: TVF फिल्म्स
OTT: अमेजन प्राइम वीडियो