आर्थिक और सियासी संकट में जूझ रहे पाकिस्तान को आई भारत की याद..

157
pak
pak

आर्थिक और सियासी संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को अब राजनीतिक गलियारों में भारत से ही उम्मीद नजर आ रही है चुनाव से पहले जनता को लुभाने के लिए राजनेता बार-बार भारत और प्रधानमंत्री मोदी की बात कर रहे हैं जहां एक तरफ उनके विदेश मंत्री बिलावल जरदारी भुट्टो पीएम मोदी पर लगातार आपत्तिजनक टिप्पणी कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी आज भारत की बात की है उनका कहना है कि भारत के साथ संबंध सुधारना चाहती थी लेकिन आरएसएस की विचारधारा और अनुच्छेद 370 को हटाया जाना आड़े आ गया।

दरअसल विदेशी पत्रकारों से बात करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री खान ने कहा कि मैं चाहता था कि मेरी साडे 3 साल के कार्यकाल में भारत के साथ संबंध हो तो रोने के जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया जाना और आर एस एस की विचारधारा रोड़ा बनती गई हम चाहते हैं भारत अपना यह फैसला वापस ले और पाकिस्तान के साथ शांति वार्ता करें कहां की पीएम मोदी का नाम लिए इशारों में कहा कि भारत का एक ही नेता चाहे तो या विवाद खत्म हो सकता है।

फिलहाल पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की यह बात का भारत क्या जवाब देगा यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।