कश्मीर पर बाज नहीं आ रहा पाक! ड्रैगन के साथ मिलकर फिर अलापा राग..

93

भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर और पाकिस्तानी समकक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी के बीच गोवा में वाकयुद्ध के एक दिन बाद चीन ने शनिवार को कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ दिया है. चीन ने शनिवार को कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर विवाद इतिहास से प्राप्त हुआ है और इस मुद्दे पर कोई भी एकतरफा कदम उठाने से बचना चाहिए. चीन ने साथ ही कहा कि इस मुद्दे का समाधान संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के अनुसार किया जाना चाहिए. चीन के विदेश मंत्री किन गांग दो दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को इस्लामाबाद पहुंचे. उन्होंने शनिवार को पाकिस्तान के अपने समकक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी के साथ एक बैठक की सह-अध्यक्षता की.

चौथे चरण के अंत में एक संयुक्त बयान जारी किया

दरअसल दोनों पक्षों ने इस्लामाबाद में ‘पाकिस्तान-चीन सामरिक संवाद’ के चौथे चरण के अंत में एक संयुक्त बयान जारी किया. बयान के अनुसार ‘चीन ने दोहराया कि भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर विवाद को संयुक्त राष्ट्र के चार्टर, सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्तावों और द्विपक्षीय समझौतों के अनुसार उचित तथा शांतिपूर्ण तरीके से हल किया जाना चाहिए.’ संयुक्त बयान में कहा गया है कि चीन और पाकिस्तान एक-दूसरे के मूल राष्ट्रीय हितों से जुड़े मुद्दों पर अपना स्थायी समर्थन जारी रखने पर भी सहमत हुए.