सपा नहीं उतारेगी कोई भी उम्मीदवार उन्नाव में, रेप पीडिता की माँ को पूर्ण समर्थन करेगी चुनाव में

265
Akhilesh Yadav
Akhilesh Yadav

उत्तरप्रदेश में ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ का नारा देने वाली कांग्रेस ने उन्नाव रेप पीड़िता की मां आशा सिंह को चुनावी मैदान में उतार कर बड़ा कदम उठाया है। वहीं अब यह खबर भी आई है कि समाजवादी पार्टी ने भी अन्याय के खिलाफ लड़ाई का चेहरा बन चुकीं आशा सिंह के समर्थन में प्रत्याशी न उतारने का फैसला लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सपा ने शुक्रवार को आशा सिंह के समर्थन का एलान किया। कांग्रेस ने उत्तरप्रदेश के लिए जारी अपनी पहली सूची में साल 2017 के बहुचर्चित उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता की मां को उन्नाव सदर से अपना उम्मीदवार बनाया है। तब से ही सोशल मीडिया पर यह आवाज उठ रही थी कि विपक्ष को आशा सिंह के समर्थन में उम्मीदवार नहीं उतारना चाहिए।

कांग्रेस द्वारा टिकट दिए जाने के बाद आशा सिंह ने कहा था कि मेरे संघर्ष में और मेरी लड़ाई में मेरा साथ देने के लिये कांग्रेस पार्टी की आभारी हूँ। आशा सिंह ने उन्नाव सदर से कांग्रेस प्रत्याशी घोषित करने के लिये कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी को धन्यवाद भी कहा था। आशा को समर्थन देकर सपा भी समाज के शोषित वर्ग के लिए प्रतिबद्धता को दर्शाना चाहती है। इस मामले में बीजेपी के पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर को पीड़िता के साथ बलात्कार का दोषी ठहराते हुए उम्र क़ैद की सज़ा सुनाई गई है।