एनआईए ने जाली करेंसी मामले में मुख्य आरोपी को किया गिरफ्तार

242

एनआईए ने उच्च गुणवत्ता वाले जाली करेंसी नोट मामले में मुख्य आरोपी को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। मालदा पश्चिम बंगाल के तौसीफ आलम ने कथित तौर पर इन करेंसी को बांग्लादेश से तस्करी कर भारत के विभिन्न हिस्सों में पहुंचाया था।

एनआईए अधिकारी ने बताया कि उसने कटिहार बिहार के मोहम्मद मुराद आलम और गाजियाबाद में शाहनवाज अंसारी को भी ये जाली नोट दिए। उन्होंने कहा कि यह मामला पिछले साल 11 दिसंबर को गाजियाबाद रेलवे स्टेशन के पास यूपी एटीएस द्वारा मुराद आलम से 2,49,500 रुपये की बरामदगी से जुड़ा है। एनआईए ने इस मामले में 4 फरवरी, 2020 को दोबारा आईपीसी और यूएपीए की धाराओं में मामला दर्ज किया। जांच के बाद 5 जून को पहली चार्जशीट दाखिल की। इस साजिश की पूरी कड़ी को उजागर करने के लिए अभी जांच जारी है।