मनी लॉन्ड्रिंग केस: NCP नेता नवाब मलिक को बड़ा झटका, 22 अप्रैल तक बढ़ी हिरासत

282
Nawab Mallik Money Laundering case

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक को मनी लॉन्ड्रिंग केस में राहत मिलती नहीं दिख रही. सोमवार को उन्हें एक और बड़ा झटका लगा. उनकी हिरासत 22 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है. भारत से भगोड़े अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में नवाब मलिक जेल में बंद हैं. 62 वर्षीय नेता को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इसी साल फरवरी में गिरफ्तार किया था.

इससे पहले नवाब मलिक की एक जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट में लगाई गई थी. मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एनवी रमणा की बेंच ने उनकी याचिका स्वीकार कर ली थी, लेकिन सुनवाई की तारीख घोषित नहीं की थी. बता दें कि बॉम्बे हाईकोर्ट फरवरी में ही नवाब मलिक की जमानत याचिका को खारिज कर चुकी है.

बुधवार 13 अप्रैल को नवाब मलिक की ओर से पेश होते हुए वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने इस मामले में जल्द सुनवाई की मांग की थी. उन्होंने कहा, यह मामला साल 2005 में सामने आया था और ट्रांजेक्शन भी साल 2000 से पहले हुआ था.

इससे पहले भी नवाब मलिक की जमानत याचिका कई बार खारिज हो चुकी है. बता दें कि नवाब मलिक राज्य सरकार की उद्धव ठाकरे सरकार में स्किल डेवलपमेंट और अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री हैं.