Military Helicopter Crash : हेलीकॉप्टर हादसे में सिर्फ शौर्य चक्र से सम्मानित ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की ही बची जान, अस्पताल में लड़ रहे मौत से जंग

    596
    Group-Captain-Varun-Singh-survived-in-heliopter-crash

    तमिलनाडु में कुन्नूर के पास हुए हेलीकॉप्टर हादसे में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) और उनकी समेत 13 लोगों का निधन हो गया. हेलीकॉप्टर में कुल 14 लोग सवार थे. भारतीय वायुसेना ने CDS जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों की हेलीकॉप्टर हादसे में मौत की पुष्टि की है. हेलीकॉप्‍टर हादसे में केवल भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्‍टन वरुण सिंह की ही जान बच सकीत है. भारतीय वायुसेना की तरफ से एक ट्वीट कर बताया गया, ‘ग्रुप कैप्‍टन वरुण सिंह (Group Captain Varun Singh) हादसे में घायल हुए हैं और उनका वेलिंगटन के मिलिट्री हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है.’

    हेलिकॉप्टर दुर्घटना में घायल हुए भारतीय वायु सेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Group captain varun Singh) को पिछले साल उड़ान के दौरान विमान में आई तकनीकी खराबी के बाद इसे साहस के साथ संभालने के लिए स्वतंत्रता दिवस पर शौर्य चक्र (Shaurya Chakra) से सम्‍मानित किया गया था. उन्‍होंने अपने कौशल का प्रदर्शन करते हुए तेजस (TEJAS) लड़ाकू विमान को सुरक्षित लैंड कराया था.

    मालूम हो कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) वायुसेना के एमआई-17वीएच हेलीकॉप्टर से बुधवार दोपहर करीब तीन बजे निर्धारित लेक्चर देने के लिए कुन्नूर जिले के वेलिंगटन स्थित डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज जा रहे थे, जब यह भयानक हादसा हुआ.